इस राज्य में 25 सालों से है एक ही मुख्यमंत्री, कल होगा भाग्य का फैसाल

Daily news network Posted: 2019-05-22 19:57:18 IST Updated: 2019-05-22 19:57:18 IST
इस राज्य में 25 सालों से है एक ही मुख्यमंत्री, कल होगा भाग्य का फैसाल
  • सिक्किम में लोकसभा की एकमात्र और विधानसभा की 32 सीटों के लिए 11 अप्रैल को पहले चरण में वोटिंग हुई थी। जिसमें 69 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया।

सिक्किम में लोकसभा की एकमात्र और विधानसभा की 32 सीटों के लिए 11 अप्रैल को पहले चरण में वोटिंग हुई थी। जिसमें 69 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया।

 


 सिक्किम के चार जिलों में 567 मतदान केन्द्र बनाए गए थे। इनमें से 39 सीटों पर सिर्फ महिला कर्मचारियों को तैनात किया गया था। 11 अप्रैल को संपन्न हुए मतदान के लिए कुल 4,32,306 मतदाता पंजीकृत थे।


 दिव्यांग जन अपने मताधिकार का प्रयोग आसानी से कर सकें इसके लिए मतदन केन्द्रों पर विशेष व्यवस्था की गई थी। राज्य में करीब 2,042 दिव्यांग मतदाता हैं। 32 विधानसभा सीटों के लिए कुल 150 जबकि लोकसभा सीट के लिए 11 प्रत्याशी मैदान में थे।


 

 रिकॉर्ड रूप से लगातार आठवीं बार विधायक बनने के लिए चुनाव लड़ रहे मुख्यमंत्री पवन कुमार चामलिंग दो सीटों पोकलोक-कामरांग और नामचि-सिंघिथांग से चुनाव लड़ रहे हैं। भारतीय फुटबॉल टीम के पूर्व कप्तान बाईचुंग भूटिया और हमरो सिक्किम पार्टी (एचएसपी) के कार्यकारी अध्यक्ष भी गंगटोक सहित दो सीटों से चुनाव लड़ रहे हैं। गंगटोक सीट भूटिया-लेचपा समुदाय के लिए सुरक्षित है।