अब शाहिद कपूर बनेंगे बॉक्सर, निभाएंगे हिंदुस्तान के इस खतरनाक मुक्केबाज का रोल, देखें वीडियो

Daily news network Posted: 2019-02-21 17:07:17 IST Updated: 2019-02-21 17:07:17 IST

बॉलिवुड ऐक्टर शाहिद कपूर के फैंस उनकी फिल्म का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। अपनी आगामी फिल्म में शाहिद एक बॉक्सर की भूमिका में दिखेंगे। खास बात यह है कि ऐक्टिंग के साथ ही शाहिद इस फिल्म को प्रड्यूस भी कर रहे हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार, शाहिद इस फिल्म को राजा कृष्ण मेनन के साथ को-प्रड्यूस कर रहे हैं। यह फिल्म मणिपुर के रहने वाले बॉक्सिंग स्टार डिंको सिंह की लाइफ पर बनने वाली है। 'एयरलिफ्ट' और 'शेफ' जैसी फिल्में बना चुके डायरेक्टर राजा कृष्ण मेनन ही इस फिल्म को डायरेक्ट कर रहे हैं। 



 

करीबी सूत्रों के मानें, तो डिंको सिंह की कहानी के अधिकार शाहिद के पास हैं और इस फिल्म को डायरेक्ट करने का जिम्मा राजा कृष्ण मेनन को मिला है। फिल्म की शूटिंग इसी साल जनवरी में शुरू होनी थी। कहानी बार-बार लिखे जाने के कारण देरी हो गई। अभी स्क्रिप्टिंग पर काम हो चल रहा है। साल के अंत तक फिल्म को रिलीज किए जाने की योजना है। सूत्र ने बताया, ‘अब दोनों साथ आ गए हैं। फिल्म की शूटिंग दिल्ली के अलावा मणिपुर में होगी। वहीं एक अंतरराष्ट्रीय शेड्यूल की योजना भी बनाई जा रही है।’ सूत्र ने यह भी बताया कि यह लिखने के लिहाज से एक मुश्किल स्क्रिप्ट है, इसलिए ज्यादा समय लग रहा है, लेकिन इस साल फिल्म फ्लोर पर होगी। राजा अपने राइटर्स के साथ मिलकर कहानी पर रिसर्च कर रहे हैं। 



 

शाहिद ने डिंको सिंह की लाइफ को समझने के लिए पिछले साल उनसे साथ कुछ समय बिताया था। डिंको सिंह भारत के सबसे अच्छे बॉक्सर्स में से एक हैं।मणिपुर के रहने वाले डिंको सिंह ने केवल 19 साल की उम्र में एशियन गेम्स में बॉक्सिंग में गोल्ड जीता था। साल 2013 में उन्हें पद्मश्री अवॉर्ड से भी नवाजा गया था। अभी डिंको 100 से भी ज्यादा युवा बॉक्सर्स को कोचिंग दे रहे हैं। साल 2017 में डिंको को कैंसर भी हो गया था और अपने इलाज के लिए फंड जुटाने में उन्हें काफी परेशानी हुई थी। इलाज के दौरान डिंको की 13 राउंड की कीमोथैरिपी करानी पड़ी थी। डिंको की कैंसर की बीमारी के बारे में जब गौतम गंभीर को पता चला था तो उन्होंने इलाज के लिए उनकी आर्थिक सहायता की थी। इसके बाद 13 डॉक्टर भी उनके इलाज के लिए सामने आए थे। गोल्ड मेडल जीत सफलता का परचम लहराने वाले डिंको किसी जमाने में माओवादी बनने जा रहे थे।