असम में सात रोहिंग्या और एक बांग्लादेशी गिरफ्तार

Daily news network Posted: 2019-02-11 11:09:45 IST Updated: 2019-02-12 08:28:38 IST
असम में सात रोहिंग्या और एक बांग्लादेशी गिरफ्तार

गुवाहाटी

असम के सिलचर शहर में सात रोहिंग्या सहित एक बांग्लादेशी को गिरफ्तार किया गया है। उन्हें सिलचर सोनपारी बाईपास से सईदुर इस्लाम बारभुयान के घर से गिरफ्तार किया गया। बता दें, सईदुर इस्लाम बारभुयान नाम के इस शख्स के मानव तस्करी समूहों के साथ संबंध होने का संदेह है। आपको बता दें, गिरफ्तार किये गए आठ लोगों में से 6 महिलाएं हैं। आशंका जताई जा रही है कि इन्हें जम्मू-कश्मीर, दिल्ली और मणिपुर भेजा जाने वाला था। सूत्रों के मुताबिक इस बात की पुष्टि रंगीर खारी पुलिस स्टेशन के उत्तुल चंद ने की है।



गौरतलब है कि हाल ही में रेलवे सुरक्षा बल ने असम की सीमा से सटे उत्तरी त्रिपुरा में रोहिंग्या मुस्लिमों के सात बच्चों को हिरासत में लिया था। पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे (एनएफआर) के आरपीएफ के एक अधिकारी ने कहा था कि धर्मनगर रेलवे स्टेशन (उत्तरी त्रिपुरा) पर रोहिंग्या समुदाय की छह लड़कियां और एक लड़के को हिरासत में लिया गया। सभी बच्चों की आयु 18 वर्ष से कम है। उन्होंने कहा कि ये बच्चे दलालों के साथ अगरतला से बस द्वारा धर्मनगर पहुंचे थे और रेलगाड़ी से दक्षिणी असम स्थित बदरपुर जाने वाले थे। आरपीएफ अधिकारी ने कहा, आरपीएफ जवानों की उपस्थिति भांपते हुए बच्चों के साथ आए दलाल मौके (अगरतला से 190 किलोमीटर दूर) से भाग गए। हम बच्चों की भाषा भी नहीं समझ पा रहे हैं।

 

 



उन्होंने कहा, उनके पास से बदरपुर की रेल टिकटें मिली हैं। वे शायद बिचौलियों की तस्करी के शिकार हुए हैं। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि सभी बच्चों को त्रिपुरा सरकार द्वारा संचालित बाल-सुधार गृह भेजा जाएगा। उत्तरी त्रिपुरा के पुलिस अधीक्षक भानुपाड़ा चक्रवर्ती ने कहा कि पुलिस मामले की जांच करेगी कि ये बच्चे त्रिपुरा कैसे पहुंचे। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) ने 22 जनवरी को नौ महिलाओं और 16 बच्चों सहित 31 रोहिंग्या मुस्लिमों को त्रिपुरा पुलिस के सुपुर्द किया था।