बिहार की राह पर मिजोरम, सत्ता संभालते ही जोरमथांगा करेंगे ये काम

Daily news network Posted: 2018-12-12 11:37:58 IST Updated: 2018-12-13 08:36:35 IST
बिहार की राह पर मिजोरम, सत्ता संभालते ही जोरमथांगा करेंगे ये काम
  • एक दशक बाद सत्ता में वापसी करने वाले मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) के अध्यक्ष और मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार जोरमथांगा ने कहा है

आइजोल।

एक दशक बाद सत्ता में वापसी करने वाले मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) के अध्यक्ष और मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार जोरमथांगा ने कहा है कि उनकी पार्टी किसी के साथ गठबंधन नहीं करेगी। इसके साथ ही जोरमथांगा ने कहा कि शराबबंदी, सड़कों की मरम्मत और सामाजिक आर्थिक विकास कार्यक्रम को लागू करना उनकी सरकार की प्राथमिकता होगी।



जोरमथांगा ने आइजोल पूर्व से ढाई हजार वोटों के अंतर से जीत दर्ज की है। इससे पहले वर्ष 2008 और 2013 में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। 1998 से 2008 तक मुख्यमंत्री रहे जोरमथांगा ने कहा कि हम भाजपा या किसी दूसरी पार्टी के साथ गठजोड़ नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि हम नार्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक अलायंस (नेडा) के अलावा एनडीए में भी शामिल हैं। लेकिन राज्य में हम अपने बूते ही सरकार का गठन करेंगे। ध्यान रहे कि भाजपा को पहली बार यहां एक सीट मिली है। इस बार एमएनएफ ने जीत का अपना पिछड़ा रिकॉर्ड भी तोड़ दिया है। वर्ष 1998 और 2003 में उसे सबसे ज्यादा 21 सीटें मिली थीं।


 एमएनएफ विधायक दल के नेता चुने गए जोरमथांगा

 मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) के अध्यक्ष जोरमथांगा को पार्टी विधायक दल का नेता चुन लिया गया है। यहां चुनावी नतीजों के बाद मंगलवार शाम को पार्टी के नए विधायकों की बैठक में उनको आम राय से नेता चुना गया। इसके बाद जोरमथांगा ने राज्यपाल के.राजशेखरन से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश किया। इससे पहले मंगलवार दोपहर मुख्यमंत्री ललथहवला ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया। उन्होंने राजभवन जाकर राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपा। एमएनएफ प्रवक्ता ने बताया कि तानलुइया को विधायक दल का उपनेता और लालरुआतकीमा को सचिव चुना गया है। ध्यान रहे कि 40 सदस्यीय विधानसभा में एमएनएफ को 26 सीटें मिली हैं।

 


 मिजोरम में दोनों सीट पर हारे मुख्यमंत्री

 मिजोरम के मुख्यमंत्री और कांग्रेस के उम्मीदवार ललथनहवला विधानसभा चुनाव में अपनी सेरछिप और चमफाई दक्षिण सीट हार गए। ललथनहवला को सरचिप सीट पर जोराम पीपुल्स मूवमेंट के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार लालदूहोमा ने 410 मतों के अंतर से हराया।सीएम को दूसरी सीट चमफाई पर राजनीतिक में कदम रखने वाले मिजो नेशनल फ्रंट के उम्मीदवार टीजे लालनंत्लुअंगा से 1049 मतों से हार गए।