असमः महिला पत्रकार पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज, हुईं घायल

Daily news network Posted: 2018-03-10 22:25:44 IST Updated: 2018-03-10 22:31:29 IST
असमः महिला पत्रकार पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज, हुईं घायल
  • असम पुलिस ने मिजो छात्र संगठन के प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज किया है। इस लाठी चार्ज में एक महिला पत्रकार सहित कई छात्र घायल हो गए हैं।

गुवाहाटी।

असम पुलिस ने मिजो छात्र संगठन के प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज किया है। इस लाठी चार्ज में एक महिला पत्रकार सहित कई छात्र घायल हो गए हैं। यहा लाठीचार्ज असम-मिजोरम सीमा विवाद के बीच किया गया। शनिवार को लाठीचार्ज के बाद प्रदर्शन ने हिंसक रूप ले लिया।


 बताया जा रहा है कि पुलिस ने गोली भी चलाई है। इस दौरान कई लोग घायल हुए जिनमें न्यूज18 की पत्रकार एमी सी लॉबेई भी शामिल हैं।


 एमी के कंधे और पीठ पर गंभीर चोटें आई हैं। उनका बैराबी के अस्पताल में प्राथमिक उपचार कराया गया। पुलिस की गोली से दो अन्य लोग भी घायल हुए हैं। लॉबेई ने फेसबुक पोस्ट के जरिए पूरी घटना के बारे में जानकारी दी है।


 उन्होंने लिखा, 'मैं सुबह करीब 6 बजे आइजवाल से अन्य रिपोर्टरों के साथ निकली थी। सुबह करीब 11 बजे हम बैराबी पहुंचे और सीधे मिजो छात्रों से मुलाकात की। इससे पहले कि हम 100 फीट दूर खड़े असम के अधिकारियों से बात कर पाते, मिजो छात्रों ने पुलिस की तरफ बढ़ना शुरू कर दिया। उनके पास लकड़ी के टुकड़े थे और कोई हथियार नहीं था।'


 एमी ने आगे बताया, 'असम पुलिस ने छात्रों को अपनी तरफ आते देखा तो उन्हें रोकने की कोशिश की। दोनों तरफ कुछ बातें कही गईं और लाठीचार्ज शुरू हो गया। पुलिस सबको पीटते हुए हमारी तरफ आने लगी। मेरी पीठ, हाथ में लाठी पड़ रही थी, पुलिस ने गोली चलानी शुरू कर दी। मैं इतना डर गई कि अपनी कार की तरफ भागने लगी।'


 एमी ने अपनी पोस्ट में लिखा कि यह बताने के बाद भी कि वह एक पत्रकार है पुलिस उन्हें पीटती रही। उन्होंने बताया कि एक पुलिसवाला दूसरों को रोकने की कोशिश कर रहा था लेकिन उसका कोई फायदा नहीं हुआ।


 बता दें कि असम प्रशासन ने 7 मार्च को मिजोरम से सटे हैलाकांडी जिले में धारा 144 लागू कर दी थ। असम प्रशासन को आशंका है उनके क्षेत्र में मिजोरम की तरफ से अतिक्रमण की कोशिश की जा रही है। हैलाकांडी डिप्टी कमिशनर आदिल खान और अन्य अधिकारियों के दौरे के बाद मिजोरम के कोलासिब जिले से लगे रामनाथपुर पुलिस थाना क्षेत्र में आने वाले कचुर्थल और आसपास के इलाकों में धारा 144 लगाई गई है।