कम उम्र में मां बन रही हैं यहां की महिलाएं

Daily news network Posted: 2018-01-20 16:03:55 IST Updated: 2018-01-20 16:07:00 IST
कम उम्र में मां बन रही हैं यहां की महिलाएं
  • नार्थईस्ट राज्यों में बढ़ रही है टीनएज प्रेग्नेंसी जी हां टीनएज प्रेग्नेंसी (15 से 19 साल) के मामलों में जहां देशभर में कमी देखी जा रही है, वहीं नॉर्थईस्ट के तीन राज्यों में इसमें बढ़ोतरी देखने को मिल रही है।

नई दिल्ली

नार्थईस्ट राज्यों में बढ़ रही है टीनएज प्रेग्नेंसी  जी हां टीनएज प्रेग्नेंसी (15 से 19 साल) के मामलों में जहां देशभर में कमी देखी जा रही है, वहीं नॉर्थईस्ट के तीन राज्यों में इसमें बढ़ोतरी देखने को मिल रही है।

 

 

 


सरकार की तरफ से जारी एक रिपोर्ट के मुताबिक, देश के कई पिछड़े राज्यों में इसमें कमी आई है, लेकिन  पूर्वोत्तर राज्य मेघालय, त्रिपुरा और मणिपुर में इस केस में बढ़ोतरी देखी गयी है।

 

 


 नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे (एनएफएचएस) की रिपोर्ट के मुताबिक, 2005-06 की तुलना में 2015-16 में झारखंड, बिहार और उत्तर प्रदेश में टीनएज प्रेग्नेंसी के मामलों में 10 फीसदी से ज्यादा की कमी आई है। जबकि त्रिपुरा, मेघालय और मणिपुर जैसे नॉर्थ ईस्ट राज्यों में आधी फीसदी के करीब बढ़ोतरी हुई है।

 

 



 इस रिपोर्ट के मुताबिक, 2005-06 की तुलना में 2015-16 में त्रिपुरा और मेघालय में सबसे ज्यादा 0.3 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। 2005-06 की तुलना में त्रिपुरा में ये आंकड़ा 18.5 फीसदी से बढ़कर 18.8 फीसदी तक पहुंच गया है। वहीं मेघालय में ये आंकड़ा 8.3 फीसदी से बढ़कर 8.6 फीसदी तक पहुंच गया है।

 

 

 


मणिपुर में 0.1 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है, 2005-06 में मणिपुर में टीनएज प्रेग्नेंसी 7.3 फीसदी था. जो बढ़कर 2015-16 में 7.4 फीसदी हो गया है, इसका एक कारण यह भी है नार्थईस्ट के कई राज्यों व इलाकों में मौजूद जनजाति और लोगो में अभी भी शिक्षा की कमी है जिसके कारण भी इस तरह के मामलों में बढ़ोत्तरी देखी जा रही है।