कोरोना वायरस के चलते इन राज्यों में फंस गए हैं स्कूली बच्चे, मां-बाप लगा रहे गुहार

कोरोना वायरस के चलते इन राज्यों में फंस गए हैं स्कूली बच्चे, मां-बाप लगा रहे गुहार News

असम की शिक्षा व संस्कृति को समझने के लिए नवोदय विद्यालय चारूवा से असम गए बच्चे कोरोना वायरस के चलते फिलहाल वापस नहीं लौट सकेंगे।

दिसपुर

असम की शिक्षा व संस्कृति को समझने के लिए नवोदय विद्यालय चारूवा से असम गए बच्चे कोरोना वायरस के चलते फिलहाल वापस नहीं लौट सकेंगे। वहीं असम से मध्यप्रदेश की संस्कृति व शिक्षा समझने के लिए असम से आए बच्चों के भी यही हाल हैं। ऐसे में चारूवा नवोदय के बच्चे असम में और असम के बच्चे चारूवा नवोदय विद्यालय में रुके हुए हैं।

बता दें कि ट्रेनों के आवागमन बंद होने के चलते यह स्थिति बनी हुई है। वहीं नवोदय विद्यालय प्रबंधन द्वारा फिलहाल बच्चों की सुरक्षा को लेकर विद्यालय में ही रखने की बात कही जा रही है। ऐसे में बच्चों में वर्तमान में चिंताएं बढ़ रही हैं, वहीं पालक भी चिंतित हो रहे हैं।


जानकारी के अनुसार असम के बरपेटा जिले के नवोदय विद्यालय से 23 बच्चे कुछ दिन पूर्व चारूवा नवोदय विद्यालय आए थे। इसी व्यवस्था के तहत चारूवा नवोदय विद्यालय के बच्चे भी असम के बरपेटा गए थे। जहां पर बच्चे रहकर एक-दूसरे के क्षेत्र में रहकर शिक्षा, संस्कृति एवं अन्य पहलुओं को समझते हैं। चारूवा में बरपेटा जिले के 7 बालिका एवं 16 बालक शामिल हैं, जिनका 25 मार्च को जाने के लिए ट्रेन का आरक्षण था। वहीं दूसरा 5 अप्रैल को है, लेकिन ट्रेनों के बंद होने से बच्चे असम नहीं पहुंच सकेंगे। वहीं चारूवा नवोदय के बच्चों की वापसी 24 मार्च को होना थी, लेकिन वे भी वापस नहीं आ सकेंगे।



कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते समूचे देश में हाहाकार की स्थिति बनी हुई है। वहीं अन्य शहरों व विदेशों में रह रहे लोग अपने-अपने घर लौट रहे हैं। ऐसे में अपने बच्चों को एक दूसरे प्रदेश में होने पर परिजन चिंतित हैं। ऐसी स्थिति में परिजनों द्वारा स्कूल प्राचार्यों को फोन लगाकर जानकारी ले रहे हैं।

वहीं प्राचार्यों द्वारा परिजनों की संतुष्टि के लिए पालकों से फोन पर बच्चों की बात कराई जा रही है। विद्यालय प्रबंधन द्वारा भी स्थिति सामान्य होने का इंतजार किया जा रहा है, ताकि बच्चे सुरक्षित तरीके से अपने अपने विद्यालयों में पहुंच सकें।


हमारे यहां से 23 बच्चे असम और असम के 23 बच्चे चारूवा नवोदय में है। दोनों ओर बच्चे सुरक्षित हैं। स्थिति सामान्य होने पर ही बच्चों को भेजा जा सकेगा और वहां से बच्चों को बुलाया जाएगा। बच्चे पूरी तरह सुरक्षित हैं। बच्चों क परिजनों से बात कराई जा रही है।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज : https://twitter.com/dailynews360

Top News

Tending Now