खटाई में पड़ी इस राज्य से विदेशियों को बाहर निकालने की योजना, ये संगठन बने रोड़ा

Daily news network Posted: 2019-07-23 11:16:05 IST Updated: 2019-07-23 11:16:05 IST
खटाई में पड़ी इस राज्य से विदेशियों को बाहर निकालने की योजना, ये संगठन बने रोड़ा
  • नागालैंड में विदेशियों की पहचान के लिए लायी जा रही आरआईआईएन योजना को लेकर कई संगठनों में मतभेद सामने आए हैं।

कोहिमा

नागालैंड में विदेशियों की पहचान के लिए लायी जा रही आरआईआईएन योजना को लेकर कई संगठनों में मतभेद सामने आए हैं। यह योजना राज्य सरकार अपने अनुसार लेकर आई जिसमें केंद्र सरकार कोई लेना—देना नहीं है। लेकिन अब यह योजना खटाई में पड़ती नजर आ रही है क्योंकि राज्य के कई संगठनों इसको लेकर मतभेद उत्पन्न हो गया है।

 

राज्य में स्थित विभिन्न संगठनों के विचार इस योजना को लेकर अलग—अलग हैं। उनका कहना है कि एनएनपीजी और भारत सरकार के बीच हुए शांति प्रक्रिया के समझौते पर भी विचार किया जाए। उनका कहना है कि सरकार के मंत्री भी नागाओं के प्रति अपनी जिम्मेदारी से नहीं मुकर सकते।

 

आपको बता दें कि एनएनपीजी में नागालैंड के साथ भूमिगत संगठन भी शामिल हैं। उन्होंने अपनी प्रेस विज्ञप्ति में कहा है कि नगा अपने गांव के नागरिक हैं, जहां उनके पूर्व रहा करते थे तथा सभी गांव स्वतंत्र हैं। यहां पर उनका अपना सीमा शुल्क, प्रक्रया, कानून और प्रथाएं हैं। साथ ही इन गांवों के पास यह निर्णायक शक्ति है कि कौनसा कानून लागू किया जाए और कौनसा नहीं। ऐसी कई चीजें जिनको लेकर ये संगठन राज्य सरकार और भारत के साथ अपने समझौते के हितों का ध्यान रखते हुए आरआईआईएन योजना लागू करने की मांग कर रहे हैं।