नागालैंड वालों ने पेश की मानवता की मिसाल, वन विभाग को सौंपा अजगर आैर उसका बच्चा

Daily news network Posted: 2018-04-20 18:21:33 IST Updated: 2018-04-21 10:00:41 IST
नागालैंड वालों ने पेश की मानवता की मिसाल, वन विभाग को सौंपा अजगर आैर उसका बच्चा
  • वन्यजीव संरक्षण प्रदर्शनी में नागालैंड के पफ्तुसेरोमि गांव के लोगोंं ने बुधवार को वन विभाग को एक विशाल अजगर आैर उसका बच्चा सौंप दिया।

कोहिमा।

वन्यजीव संरक्षण प्रदर्शनी में नागालैंड के पफ्तुसेरोमि गांव के लोगोंं ने बुधवार को वन विभाग को एक विशाल अजगर आैर उसका बच्चा सौंप दिया। चखेसंग पब्लिक आर्गनाइजेशन आैर चखेसंग यूथ फ्रंट के द्वारा वन्यजीव संरक्षण की अपील करने के बाद गांव वालों ने ये महान पहल की। ताकि वन्य जीवों को सुरक्षित रखा जा सके।

 

 


गांव वालों ने अजगर आैर उसके बच्चे को दिमापुर के रंगपहर में स्थिति नागालैंड जूलोजिकल पार्क को सौंप दिया। सीवार्इएफ के सेकेरेट्री कुपेल्ही लेसोउ ने मीडिया को बताया कि 15 अप्रैल की शाम को मेलुरी डिविजन के अंदर आने वाले गांव माटीखरी के गांव वालों से अजगर आैर उसके बच्चे को पकड़ा था।

  

 


 बता दें कि गांव वाले अजगर को पफ्तुसेरो शहर बेचने के लिए ले जा रहे थे। तभी उन्हें लगा कि दोनों अजगर जिंदा है आैर उन्होंने सोचा कि उनकी सुरक्षा के लिए वन विभाग को दे देना चाहिए। इसके बाद उन्होंने इस बारे में वन विभाग को सूचित किया। वन विभाग से उसकी देखभाल आैर उसे बचाने का अनुरोध किया। इसके बाद उन्होंने दाेनों को उनके हवाले कर दिया।

 

 


गांव वालों के मुताबिक मां अजगर 13.4  फुट लंबी थी आैर उसका वजन लगभग 36 किलोग्राम था, जबकि 7.6 फुट था आैर करीब छह से सात किग्राम था। बुधवार की रात को पाइथन सुरक्षित रूप से नागालैंड जूलॉजिकल पार्क पहुंचा ।