नागालैंड चुनावः वोटिंग से दो हफ्ते पहले ही जीत गए पूर्व सीएम

Daily news network Posted: 2018-02-13 15:41:39 IST Updated: 2018-02-13 15:41:39 IST
नागालैंड चुनावः वोटिंग से दो हफ्ते पहले ही जीत गए पूर्व सीएम
  • इस महीने की 27 तारीख को नागालैंड में होने वाले विधानसभा चुनाव से करीब दो सप्ताह पहले ही पूर्व मुख्यमंत्री नेइफियू रियो निर्विरोध चुनाव जीत गए हैं।

कोहिमा

इस महीने की 27 तारीख को नागालैंड में होने वाले विधानसभा चुनाव से करीब दो

सप्ताह पहले ही पूर्व मुख्यमंत्री नेइफियू रियो निर्विरोध चुनाव जीत गए

हैं।

 

 

नेशनलिस्ट डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी (एनडीपीपी) के उम्मीदवार और तीन बार मुख्यमंत्री रहे नेफियू रियो कोहिमा जिले के उत्तर अंगामी-2 विधानसभा क्षेत्र से निर्विरोध जीत गए हैं। चुनाव आयोग ने उनकी जीत की घोषणा करते हुए कहा कि उनके खिलाफ उतरे प्रत्याशियों ने अपना नामांकन वापस ले लिया।

 


 नागालैंड के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अभिजीत सिन्हा ने कहा कि एनपीएफ उम्मीदवार ने अपना नामांकन वापस ले लिया। इस कारण एनडीपीपी के दूसरे उम्मीदवार को विजेता घोषित कर दिया गया, उत्तरी अंगामी-2 सीट से रियो के खिलाफ एनपीएफ के चुपफुवो अंगामी ही एक मात्र उम्मीदवार थे वह रिश्ते में रियो के साले लगते हैं ।

 

 

 

यह पहली बार नहीं है जब रियो बिना चुनाव लड़े नागालैंड विधानसभा में पुहंचे हैं। इससे पहले 1998 में वह कांग्रेस उम्मीदवार के रूप में निर्विरोध निर्वाचित हुए थे, उस वक्त अन्य दलों ने चुनाव का बहिष्कार किया था।  रियो वर्तमान में नागालैंड से संसद के सदस्य हैं राज्य में नागालैंड एक मात्र संसदीय सीट है वर्ष 2014 में वह एनपीएफ के उम्मीदवार के रूप में लोकसभा चुनाव जीते थे।

 


 भाजपा के समर्थन देने वाले रियो को राज्य में अगले मुख्यमंत्री के तौर पर भी देखा जा रहा है। वह वर्ष 2003 से 2014 के बीच 11 सालों तक तीन बार नागालैंड के सीएम रह चुके हैं। लोकसभा चुनाव जीतने के बाद उन्होंने सीएम की कुर्सी टीआर जेलियांग को दे दी थी।

 

 


 आपको बता दें कि नागालैंड में चुनाव से पहले उम्मीदवारों की समपत्ति का ब्यौरा दिया है जिसमें नागालैंड के मुख्यमंत्री बनने वाले नीईफू रियो की कुल संपत्ति 27.91 करोड़ आंकी गई है। बताया जा रहा है कि उनकी यह संपत्ति पिछले पांच सालों में 9 करोड़ रुपये की दर से बढ़ी है। नीईफू रियो की कुल चल संपत्ति 10 करोड़ से उपर की है जिसमें से एक लैंड क्रूजर प्राडो जो 64 लाख का है वहीं दूसरा बीएमडब्ल्यू मिनी F56 कूपर जो 35.5 लाख की है। इसके अलावा उनकी अचल संपत्ति 17.91 करोड़ की है जिसमें 3.06 करोड़ की संपत्ति उन्हें विरासत में मिली है जबकि बाकी खुद की अर्जित संपत्ति है।

 

 

 


 तो वहीं 67 वर्षीय रियो जो नागालैंड में भाजपा के सबसे विश्वासपात्र नेता बन कर उभरे हैं। उन्होनें अपने शपथपत्र में सांसद के तौर पर अपना वेतन, किराये से आने वाली आय, कृषि और जमा पूंजी से आने वाला ब्याज समेत अपनी कुल संपत्ति की घोषणा की है। रियो के खिलाफ नामांकन वापस लेने वाले उम्मीदवारों में सत्तापक्ष नगा पीपुल्स फ्रंट (एनपीएफ) के उम्मीदवार चुफो अंगामी भी शामिल हैं। रियो पिछले महीने एनपीएफ छोड़कर नेशनलिस्ट डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी (एनडीपीपी) में शामिल हो गए थे। हाल ही में एनडीपीपी का गठन किया गया है।

 

 


 गौरतलब है कि 27 फरवरी को होने वाले आगामी चुनावों के लिए कुल 195 उम्मीदवारों सहित पांच महिला उम्मीदवार मैदान में हैं। इस बीच, नागालैंड के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अभिजीत सिन्हा ने राज्य में स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव का आश्वासन दिया है। मतदान करने के लिए सभी मतदान केंद्रों में वीवीपीएटी मशीन और ईवीएम का प्रयोग किया जाएगा।