रियो ने कहा: नगा एकीकरण जैसे विवादित मुद्दे सुलझे, लेकिन प्रतीकात्मक मुद्दे रुकावट

Daily news network Posted: 2018-04-16 09:57:42 IST Updated: 2018-04-16 09:57:42 IST
रियो ने कहा: नगा एकीकरण जैसे विवादित मुद्दे सुलझे, लेकिन प्रतीकात्मक मुद्दे रुकावट
  • रियो ने कहा मुझे इस बात की जानकारी है कि नगा एकीकरण जैसे विवादित मुद्दे सुलझ गए हैं, लेकिन असल में प्रतीकात्मक मुद्दे रुकावट बने हुए हैं।

कोहिमा।

नगालैंड के मुख्यमंत्री नेफियू रियो ने कहा कि कई साल पुराने नगा राजनीतिक मुद्दे से जुड़े विवादित मामलों को बातचीत में शामिल पक्षों ने सुलझा लिया है, लेकिन प्रतीकात्मक मामले अब भी अंतिम समाधान तक पहुंचने में रुकावट पैदा कर रहे हैं। रियो ने राज्य सचिवालय के बाहर संवाददाताओं को बताया कि मुझे इस बात की जानकारी है कि नगा एकीकरण जैसे विवादित मुद्दे सुलझ गए हैं, लेकिन असल में प्रतीकात्मक मुद्दे रुकावट बने हुए हैं।



 

नगा एकीकरणपर पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि केंद्र ने स्पष्ट कर दिया है कि नगा एकीकरण के लिए उनके पास न्यायसंगत अधिकार है, लेकिन इसके लिए एक लोकतांत्रिक प्रक्रिया का पालन करना होगा। उन्होंने कहा कि मैं ज्यादा विस्तार में नहीं जा रहा, लेकिन जब कोई प्रतीकात्मक मुद्दों की बात करता है तो उसका आशय झंडों और पासपोर्ट से होता है। मालूम हो कि केंद्र सरकार ने 1997 में एनएससीएन (आईएम) के साथ एक संघर्ष-विराम समझौता किया था। इसके बाद दोनों पक्षों के बीच कई चरणों की शांति वार्ता हुई।



 

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले ही नागालैंड के नए सीएम नेफ्यू रियो ने जनता से वादा किया था कि उनकी सरकार सालों पुराने नगा राजनीतिक मुद्दे के समाधान के लिए कड़ी मेहनत करेगी और जल्द ही इसे सुलझा लेगी। रियो ने कहा था कि हम विकास चाहते हैं और जल्द से जल्द नगा राजनीतिक मुद्दे के समाधान के लिए कड़ी मेहनत करेंगे। उन्होंने कहा था कि हम नगालैंड में स्थाई शांति के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सक्रिय नेतृत्व में केंद्र सरकार को पूरा सहयोग करेंगे। करीब चार साल के अंतराल के बाद राज्य की राजनीति में वापसी करने वाले रियो ने यह भी कहा था कि उनकी सरकार सुनिश्चित करेगी कि उनकी पार्टी को मिला जनमत निरर्थक साबित न हो। उन्होंने कहा था कि हम बदलाव लाएंगे, हम सभी तबकों के लिए काम करेंगे और किसी को भी पीछे नहीं छोड़ेंगे।