इस वर्तमान सांसद ने किया बड़ा ऐलान, BTAD आर्मी नाम से बनाई नई पार्टी

Daily news network Posted: 2019-09-16 13:35:51 IST Updated: 2019-09-16 16:57:15 IST
  • वर्तमान निर्दलीय सांसद नाबा कुमार सरानिया ने ऐलान किया है कि उन्होंने BTAD आर्मी नाम से नई बनाई है।

गुवाहाटी

वर्तमान निर्दलीय सांसद व उल्फा की 709 बटालियन के पूर्व कमांडर नाबा कुमार सरानिया ने ऐलान किया है कि उन्होंने BTAD आर्मी नाम से नई बनाई है। उन्होंने नई पार्टी का ऐलान बोडोलैंड टेरिटोरियल काउंसिल के होने जा रहे 2020 आम चुनावों के लिए किया है। वर्तमान में असम के कोकराझाड़ से सांसद सरानिया ने कहा है कि उनकी पार्टी BTAD Army किसी तरह सशस्त्र पार्टी नहीं बल्कि राजनीतिक व बोडोलैंड ट्राइबल एरिया में आने वाले जिलों में सामाजिक उत्थान के कार्य करने वाला संगठन है। उन्होनें कहा कि नई पार्टी का ऐलान औरपचारिक ऐलान 22 सितंबर को किया जाएगा।

 

आपको बता दें कि बोडोलैंड पीपल्स फ्रंट, भारतीय जनता पार्टी और यूनाईटेड पीपल्स पार्टी लिबरल आम चुनावों में लड़ने के लिए मिलकर एक एलायंस बना सकते हैं। सरानिया ने असम के बक्सा जिले के बरबाड़ी के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि BTAD Army सशस्त्र वाली पार्टी नहीं है। यह इस क्षेत्र में लोगों के भले के लिए कार्य करेगी। उनको यह उम्मीद है उनकी यह नई पार्टी क्षेत्र में लगभग 35 सीटें जीतेगी।

 

इसी मौके पर सरानिया ने बोडोलैंड ट्राइबल काउंसिल के अध्यक्ष हगरामा मोहिलारी की निंदा करते हुए कहा कि उन्होंने उदालगिरी जिले के साथ सौतेला व्यवहार किया है। उन्होंने कहा कि पिछले आम चुनावों में MCLAs को कोई तवज्जो नहीं दी गई। अत: उदालगिरी के साथ हमेशा से सौतेला व्यवहार होता आया है जिस वजह से यहां पर किसी तरह का विकास नहीं हुआ।

 

आपको बता दें कि सरानिया पिछले कुछ दिनों से बरबाड़ी के कई गांवों का दौरा कर चुके हैं। यहां पर उन्होंने वरिष्ठजनों तथा स्थानीय लोगों को अपनी BTAD Army के बारे में बताया। हाल ही में उन्होंने दिहिरा विधानसभा क्षेत्र का भी दौरा किया। इस दौरान उनके साथ MCLA घनश्याम दास भी मौजूद थे।

 

सरानिया ने बोडोलैंड पीपल्स फ्रंट पर भी निशाना साधते हुए कहा कि मोहिलारी सांसद बिस्वजीत दैमारी को भी बलि का बकरा बना रहे हैं। वो किसी की भी सफलता नहीं चाहते। इसके अलावा वो भाजपा, असम गण परिषद तथा बोडोलैंड पीपल्स फ्रंट के गठबंधन का ही समर्थन करते रहेंगें।