पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता ने प्रधानमंत्री मोदी पर लगाया सबसे बड़ा आरोप

Daily news network Posted: 2019-05-08 12:53:11 IST Updated: 2019-05-08 19:47:36 IST
  • तृणमूल कांग्रेस प्रमुख एवं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को कहा कि उन्होंने बहुत से प्रधानमंत्री देखे हैं लेकिन मोदी जैसा सबसे बड़ा झूठा कभी नहीं देखा।

संतूरा/गुवाहाटी।

तृणमूल कांग्रेस प्रमुख एवं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को कहा कि उन्होंने बहुत से प्रधानमंत्री देखे हैं लेकिन मोदी जैसा सबसे बड़ा झूठा कभी नहीं देखा। बनर्जी ने बांकुरा लोकसभा क्षेत्र में पुरुलिया जिले के संतूरा में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी इतिहास, भूगोल तथा संविधान बदल रहे हैं और अगर वह सत्ता में दोबारा आते हैं तो लोकतंत्र को ही नष्ट कर देंगे।

 


 

 उन्होंने कहा कि भाजपा विचारों से पागल है तथा वह लोगों को आतंकित करने और हिंसा की स्थिति निर्मित करने के लिए शस्त्रों के साथ रैलियां निकालते हैं। उन्होंने सवाल किया नरेंद्र मोदी केंद्र में पांच साल से सत्ता में हैं और अब तक क्या किया है। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा के गुंडे हाथों में हथियार लिए गलियों में घूमते हैं और अपना नारा लगाने के लिए लोगों को बाध्य करते हैं।

 


 उन्होंने कहा, 'हमें डर नहीं है। हम 'जय हिन्द' और 'वंदे मातरम' कहेंगे। मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा, 'वह संकट के दौरान बंगाल नहीं आते हैं। वह केवल वोट मांगने यहां आते हैं।' उन्होंने आरोप लगाया और कहा , 'प्रधानमंत्री भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) शासित राज्यों में नक्सली हिंसा पर काबू नहीं कर सके। हमने जंगलमहल में शांति बहाल की है, लेकिन केंद्र ने जंगलमहल क्षेत्र के विकास के लिए फंड रोक दिया।'


 उन्होंने कहा, 'अच्छे दिन' के नाम पर प्रधानमंत्री की नीतियों के चलते 12 हजार किसानों ने आत्महत्या कर ली। तीन करोड़ युवा अपने रोजगार खो बैठे। वह विदेशों से काला धन लाने में विफल रहे। पेट्रोल, रसोई गैस जैसी आवश्यक उपभोक्ता वस्तुओं के दाम बेतहाशा बढ़ते जा रहे हैं।' उन्होंने कहा, 'असम में एनआरसी में 22 लाख हिन्दुओं के नाम काट दिये गये। वे बंगालियों और बिहारियों को भगा रहे हैं। हम बंगाल में एनआरसी लागू किए जाने की अनुमति नहीं देंगे।'


 तृणमूल कांग्रेस नेता ने कहा, 'अमृतसर-कोलकाता औद्योगिक गलियारा दानकुनी, पानगढ़ होते हुए रघुनाथपुर तक आयेगा। इससे रोजगार के व्यापक सृजन होगा। हमने पहले ही चार औद्योगिक केंद्र स्थापित किए हैं। हमने संथाली स्कूल की स्थापना के साथ ही ऊल चिकी स्क्रिप्ट का शब्दकोष तैयार किया है , जिससे यहां के लोग संथाली भाषा में भी पश्चिम बंगाल सेकेंडरी बोर्ड की परीक्षा दे सकेंगे।

 


 हमने सभी समुदाय, जाति,वर्ग और धर्म के लिए काम किया है। समाज इनके बिना अपूर्ण है।' उन्होंने कहा, 'हमने अयोध्या हिल्स, सुसुनिया हिल्स को विकसित किया है। हम दीघा में जगन्नाथ मंदिर का नवीनीकरण कर रहे हैं। हमने बहुत से मंदिरों और धर्मस्थलों को पुर्नविकसित किया है। मोदी तो एक राम मंदिर भी बनाने के लायक नहीं हैं।'