इस राज्य की सरकार के मंत्री ​बने मिशाल, बाढ़ पीड़ितों को दे रहे अपनी सैलरी दान

Daily news network Posted: 2019-07-21 16:28:41 IST Updated: 2019-07-21 16:28:41 IST
इस राज्य की सरकार के मंत्री ​बने मिशाल, बाढ़ पीड़ितों को दे रहे अपनी सैलरी दान
  • मेघालय में आई बाढ़ से नागरिकों को राहत देने के लिए सरकार के मंत्री अपनी एक महीने की सैलरी दान में दे रहे हैं।

शिलोंग

इस समय पूर्वोत्तर भारत के लगभग सभी राज्यों में बाढ़ के हालात हैं। विशेषकर असम, मेघालय और त्रिपुरा इनमें सबसे ज्याद प्रभावित हुए हैं। लेकिन इन राज्यों की मदद के लिए पूरे भारत से ममद के लिए हाथ उठ रहे हैं। इनमें से मेघालय के गारो हिल्स इलाके भी बाढ़ के पानी में डूब गए हैं तथा यहां भारी तबाही हुई है। इसी के चलते मेघालय सरकार के मंत्रियों ने भी कुछ करने का फैसला किया है जिससें उनकी चारों तरफ तारीफ हो रही है। इस राज्य की सरकार के 12 मंत्री अपनी एक महीने की सैलरी बाढ़ पीड़ितों के लिए दान में दे रहे हैं। यह राशि मुख्यमंत्री रिलीफ फंड में जमा कराई जा रही है।

 

 

मंत्रियों द्वारा अपनी एक महीने की सैलरी दान करने का यह फैसला यहां पर आयोजित हुई एक कैबिटन मीटिंग में लिया गया है। इस बारे में राज्य के गृहमंत्री जेम्स संगमा ने कहा है कि सभी मंत्री अपनी सैलरी देने को राजी हैं। इसमें दान देने की राशि की कोई सीमा नहीं रखी गई है जिसकी जितनी मर्जी हो उतना दान दे सकते हैं।

 

 

आपको बता दें कि मेघालय के गारो हिल्स इलाके में भारी बाढ़ आई है जिससें यहां रहने वाले 25000 से भी ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं। इसमें 3 लोगों की जान चली गई है। विशेषकर दक्षिण गारो हिल्स इलाका सबसे बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। इसी चलते जिला प्रशासन की ओर से ​रिलीफ कैंप लगाए गए हैं जिनमें 15000 लोग शरण लिए हुए हैं।