काम के बहाने मेघालय की युवति से वैश्यावृत्ति कराने की कोशिश, तुरंत हुई गिरफ्तार

Daily news network Posted: 2019-07-17 08:36:09 IST Updated: 2019-07-17 08:59:00 IST
काम के बहाने मेघालय की युवति से वैश्यावृत्ति कराने की कोशिश, तुरंत हुई गिरफ्तार
  • आए दिन हमें झासा देकर वैश्यावृत्ति का शिकार होने की खबर मिलती रहती है।

आए दिन हमें झासा देकर वैश्यावृत्ति का शिकार होने की खबर मिलती रहती है। काम का लालच हो या रोजगार का लालच, कम उम्र की युवतियां इन जालसाजों के चंगुल में फंस जाती है और बड़ी ही आसानी से इसका शिकार हो जाती हैं क्योंकि ये जालसाज एक शहर में ही नहीं बल्कि दूसरे शहरों में भी अपनी पैठ बनाकर बैठे होते हैं। एक घटना इस वक्त शिलांग से सामने आ रही है। पुलिस ने शिलांग (मेघालय) से झांसा देकर लाई युवती को वैश्यावृत्ति का शिकार होने से बचा लिया है।

 

 


शिलांग पुलिस की सूचना पर हरकत में आई कोतवाली पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए कटरा स्थित होटल के कमरे में रखी गई युवती को अपनी सुरक्षा में लिया। युवती की आपबीती सुनने के बाद पुलिस ने उसे झांसा देकर सागर लाने वाली महिला को मकरोनिया के बड़तूमा से हिरासत में ले लिया और शाम को शिलांग पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। शिलांग पुलिस के अधिकारियों ने भी युवती को सुरक्षित बचाने पर सागर पुलिस को धन्यवाद दिया और युवती को अपनी सुरक्षा में लेकर आरोपी महिला सहित रवाना हो गई।

 


एएसपी राजेश व्यास ने बताया कि शिलांग एसपी द्वारा दो दिन पहले सागर एसपी अमित सांघी को मोबाइल पर चर्चा कर उत्तर पूर्व की एक युवती को सागर के कटरा स्थित एक होटल में रखे जाने की सूचना दी थी। उन्होंने युवती से गलत काम कराने का अंदेशा भी जताया था। शिलांग एसपी की सूचना के बाद एसपी अमित सांघी ने निर्देश देकर तलाश कराई तो कोतवाली पुलिस ने कटरा स्थित सबलोक होटल के कमरा नंबर 107 से युवती को बरामद कर लिया। कमरे में डरी-सहमी करीब 21 वर्षीय युवती को थाने लाकर बात करने पर उसने बताया कि शिलांग में जूलियाना नाम की महिला से मुलाकात होने पर उसने नौकरी दिलाने का कहकर दिल्ली भेजा था। वहां सागर के बड़तूमा निवासी महिला मिली और वह एक दिन बाद उसे सागर ले आई।

 

 


 सागर में उस पर वैश्यावृत्ति करने का दबाव बनाया जा रहा था। परेशान होकर उसने किसी तरह शिलांग में अपने परिवार और पुलिस तक खबर पहुंचाई थी। कोतवाली टीआइ राजेश बंजारे ने युवती को सुरक्षित बरामद करने के बाद एसपी सांघी को जानकारी दी जिसके बाद इस संबंध में शिलांग पुलिस को अवगत कराया गया। रविवार को शिलांग के लाइतुमखरा थाने से एसआइ अशोकराम और स्पेशल फोर्स से महिला आरक्षक इजेलिंग सिनकोन रवाना होने के बाद सोमवार शाम सागर पहुंचीं। यहां सीएसपी आरडी भारद्वाज और कोतवाली टीआइ द्वारा कार्रवाई के बाद युवती को शिलांग पुलिस की सुरक्षा में सौंप दिया गया।

 

 


इसके साथ ही मकरोनिया टीआइ उपमा सिंह द्वारा बड़तूमा से हिरासत में ली गई आरोपी महिला को शिलांग पुलिस गिरफ्तार कर उसे अपने साथ ले गई है। जानकारी के अनुसार शिलांग पुलिस ने एक दिन पहले ही युवती को झांसा देकर सागर पहुंचाने वाली जूलियाना को दबोच लिया है। उससे अन्य युवती को झांसा देकर देश के अन्य भागों में पहुंचाने के संबंध में भी पूछताछ की जा रही है।