International Day of Families: भारत में दुनिया का सबसे बड़ा परिवार, 181 सदस्‍य रहते हैं साथ

Daily news network Posted: 2018-05-15 11:20:47 IST Updated: 2018-05-15 11:20:47 IST
International Day of Families: भारत में दुनिया का सबसे बड़ा परिवार, 181 सदस्‍य रहते हैं साथ

महंगाई के दौर में अधिकतर लोग छोटा परिवार रखते हैं, लेकिन आज इंटरनेशनल डे ऑफ फैमिलीज पर हम आपको ऐसे परिवार के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसे दुनिया का सबसे बड़ा परिवार घोषित किया गया है। खासबात यह है कि ये परिवार विदेश में नहीं बल्कि भारत में ही मौजूद है। यहां एक साथ 181 लोग रहते हैं। दिलचस्प बात ये है कि इस परिवार ने संयुक्त परिवार की सबसे बड़ी परिभाषा को आज भी बनाए रखा है। जिसके मुताबिक इन सभी परिवार वालों का खाना एक ही रसोई में बनाता है। आप भी जानिए क्या है इस परिवार की खासियत...



मिजोरम के बख्तवांग गांव में दुनिया का सबसे बड़ा परिवार बसा है। इसके मुखिया का नाम डेड जियोना हैं। जिनकी 39 पत्नियाँ और 94 बच्चे, 14 बहुएं और 33 पोते-पोतियां हैं। डेड जिओना की उम्र है 67 साल, पेशा कारपेंटरी का है। जिओना ने 17 साल की उम्र में जाथिआंगी से पहली शादी की थी। उसके बाद समय के साथ उन्होंने शादियां करना जारी रखा। हैरानी की बात तो ये है कि डेड आज भी शादियां करने की इच्छा जताते हैं। 

 


कल्पना कीजिए की दो बीएचके के फ्लैट में आपका 10 लोगों का परिवार रहें। शायद इस चीज की कल्पना भी नहीं की जा सकती, लेकिन भारत और दुनिया को सबसे बड़ा ये परिवार चार मंजिला इमारत के 100 कमरों में रहता है। बात करें परिवार के अनुशासन की तो यहां पूरी तरह से सेना जैसा अनुशासन रहता है। परिवार के मुखिया की पहली पत्नी जाथिआंगी का घर में राज चलता है। डेड की दूसरी सारी पत्नियां उनकी इज्जत करती हैं और उन्हीं का कहा घर में माना जाता है। आज भी जाथिआंगी ही सबको उनके काम सौंपती हैं। 

 

 


यहां एक दिन के राशन में करीब 45 किलो चावल, 60 किलो सब्जियां, 25 किलो दाल, 30 से 40 मुर्गे और 50 अंडे के अलावा 20 किलो फलों की जरूरत पड़ती हैं। 100 कमरों के इस घर में 50 टेबलों वाला एक डायनिंग हाल है, जिसमें खाना परोसा जाता है। जियोना की बड़ी फैमिली होने के नाते स्थानीय चुनावों में उनका खासा प्रभाव पड़ता है। जियोना ऐसे सम्प्रदाय से ताल्लुक रखते हैं, जो अपने सदस्यों को असिमित शादियां करने की अनुमति देता है।