40 साल से लापता था मणिपुर राइफल्स का जवान, यूट्यूब एक वीडियो से पहुंचेगा घर

Daily news network Posted: 2018-04-16 15:28:23 IST Updated: 2018-04-16 17:37:29 IST
40 साल से लापता था मणिपुर राइफल्स का जवान, यूट्यूब एक वीडियो से पहुंचेगा घर
  • करीब 40 साल पहले मणिपुर राइफल्स में तैनात एक जवान अचानक से लापता हो गया था। जिसको ढूंढने के लिए ना सिर्फ परिवार ने बल्कि पुलिस ने भी अपनी जी जान लगा दी थी

इंफाल

करीब 40 साल पहले मणिपुर राइफल्स में तैनात एक जवान अचानक से लापता हो गया था, जिसको ढूंढने के लिए ना सिर्फ परिवार बल्कि पुलिस ने भी पूरी ताकत लगा दी थी, लेकिन उसका कोई पता नहीं लगा। वहीं  40 साल बाद आखिरकार मुंबई पुलिस ने इस युवक को ढूंढ निकाला है और अब वह उसे उसके परिवार वालों से मिलाने जा रही है।

 

 



यह कहानी परिवार से बिछड़े मणिपुर राइफल्स के एक जवान खोमदरम की है। जवान ने 1978 में एक दिन अचानक अपने घर को छोड़ दिया था, जिसके बाद बहुत खोजबीन करने के बावजूद भी उनका कोई पता नहीं चला । खोमदरम के छोटे भाई कुलाचंद्र ने बतलाया कि उनके भाई ने करीब सात साल तक मणिपुर राइफल्स में नौकरी की, लेकिन शादी के दो महीने बाद उनके भाई ने बिना किसी को बताए घर छोड़ दिया था।

 


 मानसिक परेशानी से जूझ रहे थे खोमदरम

खोमदरम के छोटे भाई ने बतलाया कि उस दौरान वो  कुछ मानसिक परेशानी से जूझ रहे थे, लेकिन उन्होंने इस बारे में किसी को कुछ नहीं बताया था। कुलाचंद्र के मुताबिक करीब एक साल के बाद उनके परिवार वालों को पता चला कि खोमदरम मिजोरम में हैं, लेकिन इससे पहले कि परिवार वाले वहां पहुंचते खोमदरम मिजोरम से निकल गए। कई सालों तक परिवार वालों ने खोमदरम की तलाश की, लेकिन उनका कुछ भी पता नहीं चल सका।



यू-ट्यूब पर एक वीडियो से चला पता

कुलाचंद्रा ने बतलाया कि शनिवार (14 अप्रैल) की सुबह उनके पड़ोसी ने उन्हें यू-ट्यूब पर एक वीडियो दिखलाया। इस वीडियो में उनके भाई सड़कों पर भटकते नजर आ रहे थे। सालों बाद अपने भाई को देखकर कुलाचंद्रा की आंखों में आंसू आ गए, लेकिन यह जानकर सुकून भी मिला कि उनके भाई जिंदा हैं। वीडियो की पड़ताल करने के बाद यह पता चला कि यह वीडियो मुंबई का है। इस बात की सूचना मिलते ही परिवार वालों ने मुंबई पुलिस से संपर्क साधा और अपने भाई को घर वापस लाने के लिए मदद मांगी। मुंबई पुलिस ने तत्परता से कार्रवाई करते हुए खोमदरम को खोज निकाला। जल्द ही मुंबई पुलिस खोमदरम को उनके परिवार वालों के पास पहुंचा देगी।