इस नेता को शमिल होने से भाजपा-अगप दोनो खुश

Daily news network Posted: 2019-03-21 10:39:40 IST Updated: 2019-03-21 10:39:40 IST
इस नेता को शमिल होने से भाजपा-अगप दोनो खुश
  • भाजपा के साथ फिर से मित्रता करने के बाद मानो आमबाड़ी में फिर से रौनक आ गई। पार्टी नेतृत्व के निर्णय को लेकर विरोध करने वाले अपनी जगह तलाश करने में लग गए हैं तो खाली जगह की भरपाई का सिलसिला बढ़ने लगा है...

गुवाहाटी

भाजपा के साथ फिर से मित्रता करने के बाद मानो आमबाड़ी में फिर से रौनक आ गई। पार्टी नेतृत्व के निर्णय को लेकर विरोध करने वाले अपनी जगह तलाश करने में लग गए हैं तो खाली जगह की भरपाई का सिलसिला बढ़ने लगा है। बुधवार को पूर्व आसू नेता मणि माधव महंत, अवकाशप्राप्त अभियंता निकुंज दास सहित नगांव, गोलाघाट, बोकाखात आसू इकाईयों के जिला स्तरीय तथा केंद्रीय कार्यकारिणी के सदस्यों सहित कुल 2800 युवाओं ने विधिवत असम गणपरिषद का दामन थाम लिया।

 

 

 

 इससे पहले अखिल असम कर्मचारी परिषद के पूर्व सचिव प्रधान चरण डेका ने अगप नेतृत्व से नाता तोड़ लिया। बुधवार को यहा आमबाड़ी स्थित अगप मुख्यालय में पार्टी अध्यक्ष तथा मित्रदल की सरकार में कृषि मंत्री अतुल बोरा ने उनके तमाम कार्यकर्ता की उपस्थिति में नवागत युवाओं को पार्टी में शामिल कराया। मालूम हो कि मणि माधव महंत मौजूदा जल संसाधन मंत्री केशव महंत के छोटे भाई भी हैं। अगप-भाजपा-बीपीएफ मित्रदल के संभावित उम्मीदवार के रूप में कालियाबर लोकसभा सीट से मणि माधव महंत के नाम पर चर्चा जोरों पर है।

 

 

 अगप की सदस्यता लेने के बाद पत्रकारों से हुई बातचीत में माणिमाधव महंत ने कहा कि लोकसभा चुनाव में कालियाबर सीट से उनकी उम्मीदवारी की चर्चा मीडिया में हो रही है। उन्होंने कहा कि वे चुनाव लड़ने के उद्देश्य से अगप में शामिल नहीं हुए हैं। पार्टी उन्हें जो जिम्मेदारी सैंपती है, वे उसे समर्पण भावना से करने के लिए तैयार हैं। मैं  आसू में था तब भी 'जय आई असम' बोलता था, अब भी वही मेरा नारा है। अगप अध्यक्ष अतुल बोरा आज काफी उत्साहित नजर आ रहे थे। आमबाडी़ में फिर से रौनक आने के माहैल में खुद को पाकर मानो उनका उत्साह दोगुना ज्यादा हो गया है।

 

 

 इस दौरान उन्होंने कहा कि क्षेत्रियतावाद की ज्योत हमेशा जली ही रहेगी। मित्रदल के साथ मिलकर चुनाव लड़ने के तहत बरपेटा, कलियाबर और धुबड़ी सीट से अगप उम्मीदवारों की सूची कब जारी होगी यह पुछने पर बोरा ने बताया कि फिलहाल पार्टी के वरिष्ठ नेता और एजेंसी को इन क्षेत्रों में समीक्षा का जिम्मा सौंपा गया है। उन्होंने आगामी 23 मार्च को इन सीटों से उम्मीदवारों के नामों की घोषणा करने का संकेत दिया।