रिमझिम बारिश के बीच दार्जिलिंग पहुंचीं सीएम ममता

Daily news network Posted: 2018-03-13 14:11:17 IST Updated: 2018-03-13 14:11:17 IST
रिमझिम बारिश के बीच दार्जिलिंग पहुंचीं सीएम ममता
  • पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी रिमझिम बारिश के बीच दो दिवसीय बिजनेस सम्मेलन में भाग लेने के लिए सोमवार को दार्जिलिंग पहुंची।

दार्जिलिंग

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी रिमझिम बारिश के बीच दो दिवसीय बिजनेस सम्मेलन में भाग लेने के लिए सोमवार को दार्जिलिंग पहुंची। जहां उनका गोजमुमो केंद्रीय सांगठनिक प्रमुख एलएम लामा ने गोरखा रंगमंच भवन में जोरदार स्वागत किया। इस दौरान लामा के साथ मोर्चा के दार्जलिंग महकमा समिति के अध्यक्ष आलोक कांत मणि थुलुंग, मोर्चा के केंद्रीय उपाध्यक्ष सतीश पोखरेल समेत कर्इ आैर लोग भी मौजूद थे।

 

 


इसी तरह से दार्जिलिंग के राजभवन के पास हिल तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने भी मुख्यमंत्री का भव्य स्वागत किया। मुख्यमंत्री ने सभी का स्वागत और अभिवादन स्वीकार किया आैर सरकारी अतिथि गृह रिचमाउंड हिल की ओर चली गयीं।

 

 

 बता दें कि इससे पहले, ममता पांच दिवसीय पहाड़ दौरे पर सोमवार को सिलीगुड़ी पहुंचीं। दोपहर के करीब 3 बजे वे हवाई मार्ग से बागडोगरा पहुंचीं। जहां से सड़क के रास्ते वे दार्जिलिंग के लिए रवाना हो गयीं। आज से दार्जिलिंग में शुरू हो रहे दो दिवसीय बिजनेस सम्मेलन में शामिल होने के बाद मुख्यमंत्री 15 मार्च को सिलीगुड़ी पहुंचेगी।

 


आपको बता दें कि सिक्किम को रेल नेटवर्क से जोड़ने को लेकर चर्चा करने के लिए सीएम ममता बनर्जी ने एनएफ रेलवे प्रशासन को दार्जिलिंग में होने वाले बिजनेस समिट के मौके पर बुलाया है। एनएफ रेलवे के जीएम (कंस्ट्रक्शन) नीलेश किशोर प्रसाद सोमवार को दार्जिलिंग रवाना भी हुए। सीएम ममता भी सोमवार को ही रिमझिम बारिश के बीच दार्जिलिंग पहुंची। दार्जिलिंग में आज होने वाले इस बिजनेस सम्मेलन में नीलेश किशोर प्रसाद से बातचीत करके सिक्किम को रेलवे नेटवर्क से जोड़ने के बारे में चर्चा करेंगी।

 


 गौरतलब है कि सिक्किम को रेल से जोड़ने की कवायद 15वीं लोक सभा चुनाव के बाद गठित यूपीए-दो की सरकार में तत्कालीन रेलमंत्री मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की उपस्थति में 1340 करोड़ रुपये की इस परियोजना को वर्ष 2015 तक पूरा कराने का लक्ष्य रखा गया था। लेकिन जमीन अधिग्रहण की बाधा के कारण इस परियोजना पर अभी तक काम शुरू नहीं किया  गया है।