ये हैं नागालैंड की लुलु हींगा, जिनके खाने का दीवाना है बेल्जियम

Daily news network Posted: 2018-04-06 15:06:23 IST Updated: 2018-04-07 16:53:45 IST
ये हैं नागालैंड की लुलु हींगा, जिनके खाने का दीवाना है बेल्जियम
  • मर्दो की दुनिया समझे जाने वाले रेस्टोरेंट बिजनेस में महिलाओं ने कब्जा कर लिया है, वह भी परिवार की मदद से

कोहिमा

एक समय था, जब प्रोफेशनल कुकिंग की बात करते ही तरला दलाल, रितु डालमिया जैसी गिनी चुनी महिलाओं का ही जिक्र होता था, लेकिन आज की कहानी कुछ अलग है। मर्दो की दुनिया समझे जाने वाले रेस्टोरेंट बिजनेस में महिलाओं ने कब्जा कर लिया है, वह भी परिवार की मदद से। ऐसी ही कहानी नागालैंड की लुलु की है। 



नगा खाने का एक फूड ट्रक चलाती हैं लुलु 

लुलु इस वक्त बेल्जियम में हैं। वे खेंग्क शहर में नगा खाने का एक फूड ट्रक चलाती हैं। इससे पहले वे फ्लाइट अडैंडेंट थी और खाना बनाना व दूसरों को खिलाना उन्हें पसंद था। अपने पति बॉब स्टॉल भी उनके हाथों से बने नगा खाने के दीवाने थे। एक दिन बॉब को ख्याल आया कि क्यों न इस अनोखे स्वाद को घर से बाहर निकालकर बेल्जियम के लोगों तक पहुंचाया जाए। बस फिर क्या था, बॉब ने अपनी पत्त्नी से बात कर फौरन लुलुज ट्राइबल किचन की शुरुआत की। ज्यादा पैसे न होने के वजह से पहले यह किचन एक टेंट में चलता था, जो आज एक फेमस फूड ट्रक का रूप ले चुका है। लुलु हींगा का कहना है कि उनके पति को हमेशा से यकीन था कि मेरा खाना बेल्जियम के लोगों को काफी पसंद आएगा। वहीं रोमी गिल की कहानी भी लुलु से काफी मिलती जुलती है। लंदन में रहने वाली रोमी के पास भी कुकिंग की कोई फॉर्मल ट्रेनिंग नहीं थी। 




पंजाबी रोमी कोलकाता में पली बढ़ी थी। शादी के बाद उन्हें पति के पास इंग्लैंड शिफ्ट होना पड़ा। वे एक हाउस वाइफ थीं और उन्हें अपने पति और दो बेटियों के लिए पंजाबी और बंगाली खाना बनाना पसंद था। खाली समय का सही इस्तेमाल करने के लिए रोमी घर से ही कैटरिंग का बिजनेस करनी लगीं। उनकी मेहनत को देखते हुए पति ने काफी प्रोत्साहित किया और खुद का रेस्टोरेंट खोलने की सलाह दी। इस बात को सुनकर रोमी थोड़ा डर गई, फिर पति के समझाने पर ४१ साल की उम्र में उन्होंने अपना रेस्टोरेंट रोमीज किचन इंग्लैंड खोला। आज रोमी का रेस्टोरेंट काफी अच्छा चल रहा है। वे अपने काम में बहुत ज्यादा बिजी रहती हैं। ऐसे में दोनों बेटियों का ख्याल रोमी के पति रखते हैं।