वामपंथी देशद्रोही, चीन के हमले पर नाच रहे थे: सुनील देवधर

Daily news network Posted: 2018-04-04 09:40:53 IST Updated: 2018-04-04 09:40:53 IST
वामपंथी देशद्रोही, चीन के हमले पर नाच रहे थे: सुनील देवधर
  • त्रिपुरा में भाजपा गठबंधन को मिली ऐतिहासिक जीत के बाद सुनील देवधर ने वामपंथियों पर तीखे हमले किए।

अगरतला।

त्रिपुरा में भाजपा गठबंधन को मिली ऐतिहासिक जीत के बाद सुनील देवधर ने वामपंथियों पर तीखे हमले किए। बता दें कि त्रिपुरा प्रभारी सुनील देवधर लखनऊ के विश्वेश्वरैया सभागार में वामपंथ अवसरवाद बनाम राष्ट्रवाद विषय पर संबोधित कर रहे थे। देवधर ने वामपंथियों को देशद्रोही तक करार दे दिया। उन्होंने कहा कि वामपंथियों ने देश को बांटने का काम किया है। वह देश को एक नहीं मानते हैं।



 

देवधर ने आरोप लगाया कि 1962 में जब चीन ने भारत पर आक्रमण किया था, उस समय माकपा के लोग नाचने लगे थे। वह कह रहे थे कि मुक्तिवाहिनी हम लोगों को आजाद करवाने आ रही है। वामपंथ समाज का संरक्षण कभी नहीं कर सका। उसने दुनिया को हमेशा दो भागों में बांटा। वामपंथी जान की कीमत नहीं समझते हैं। स्वार्थ के लिए हत्या करना उनके लिए आम बात है।

 

 

सुनील देवधर ने कहा कि पूर्वोत्तर में भारतीयता को बचाने के लिए संघ के प्रचारकों ने खून दिया है। वहां पर देश से अलग होने की मांग चल रही थी। ऐसे समय में प्रचारकों ने जान देना स्वीकार किया, लेकिन वहां से वापस आना नहीं। पहले पूर्वोत्तर में ईसाई नहीं थे। अंग्रेजों ने वहां पर मतान्तरण शुरू किया। 1971 में मेघालय में 40 प्रतिशत ईसाई थे। आज 70 प्रतिशत से ऊपर ईसाई हो गए हैं। देवधर ने आरोप लगाया कि पश्चिम बंगाल में 34 साल के वापमंथी शासन में 55 हजार राजनीतिक हत्याएं की गईं। त्रिपुरा में 1000 राजनीतिक हत्याएं हुईं।