'उप्र में कानून-व्यवस्था नियंत्रण में, त्रिपुरा में कानून-व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त'

Daily news network Posted: 2018-02-14 08:24:02 IST Updated: 2018-02-14 08:24:02 IST
'उप्र में कानून-व्यवस्था नियंत्रण में, त्रिपुरा में कानून-व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त'
  • त्रिपुरा की 60 सदस्यीय विधानसभा के 18 फरवरी को होने वाले चुनाव के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का प्रचार करने आये योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कहा कि उत्तर प्रदेश में कानून-व्यवस्था की स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है।

अगरतला।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि उनके राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है। त्रिपुरा की 60 सदस्यीय विधानसभा के 18 फरवरी को होने वाले चुनाव के भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का प्रचार करने आये योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कहा कि उत्तर प्रदेश में कानून-व्यवस्था की स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है।

 


 महिलाओं के साथ होने वाले अपराध घटे हैं और पिछले 10 महीने के उनके कार्यकाल में कोई दंगा नहीं हुआ और न ही कहीं कर्फ्यू लगाना पड़ा। उन्होंने कहा कि यदि त्रिपुरा में भाजपा की सरकार बनती है तो यह सुनिश्चित किया जायेगा कि केन्द्र की सभी कल्याणकारी योजनाएं गरीबों तक पहुंचे।

 

 भाजपा यदि विधानसभा चुनाव जीतती है तो केन्द्र सरकार के साथ उसके अच्छे संबंध होंगे और केन्द्रीय परियोजनाएं राज्य में लाने और अमल करने में कोई दिक्कत नहीं होगी।

 


 मुख्यमंत्री ने कहा कि वाम मोर्चा सरकार राज्य में पिछले 25 साल से शासन कर रही है लेकिन त्रिपुरा की जनता केन्द्र की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठाने से वंचित रही है।

 

 त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक सरकार और उनकी सरकार पर हमला करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि केन्द्र के धन मुहैया कराने के बावजूद राज्य सरकार की विकास में कोई रुचि नहीं है। राज्य सरकार पर अराजकता को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि त्रिपुरा में कानून-व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त है और माणिक सरकार को सत्ता में बने रहने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि यदि भाजपा त्रिपुरा में सत्ता में आई तो सातवें वेतन आयोग को लागू किया जाएगा।