तुरा से मुकुल और सिलचर से सुष्मिता हारीं , अरुणाचल से रिजिजु और कलियाबर से गौरव जीते, एनडीए ने छुआ 350 का आंकड़ा

Daily news network Posted: 2019-05-23 09:10:02 IST Updated: 2019-05-24 11:04:30 IST
तुरा से मुकुल और सिलचर से सुष्मिता हारीं , अरुणाचल से रिजिजु और कलियाबर से गौरव जीते, एनडीए ने छुआ 350  का आंकड़ा
  • 2019 लोकसभा चुनाव के ताजा रूझान आने शुरू हो गए है। अरुणाचल प्रदेश के अरुणाचल पश्चिम लोकसभा सीट से भाजपा के प्रत्याशी किरण रिजिजु आगे चल रहे है । 2014 के चुनाव में देश के गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू ने यहां से चुनाव जीता था।

ईटानगर

17वीं लोकसभा चुनाव के परिणाम घोषित हो गए हैं। एनडीए स्पष्ट रूप से सत्ता में आ गई है। एनडीए को 350 सीटें हासिल हुई हैं। वहीं पूर्वोत्तर राज्यों की बात करें तो यहां भी बीजेपी गठबंधन ने शानदार प्रदर्शन किया है। पूर्वोत्तर में लोकसभा की कुल 25 सीटें हैं। इसमें सर्वाधिक 14 सीटें असम राज्य से आती हैं। 


ये है पूर्वोत्तर की वीवीआईपी सीटों का हाल


- अरुणाचल वेस्ट सीटः भाजपा के किरण रिजिजू जीते

- मेघालयः तुरा सीट से कांग्रेस के मुकुल संगमा हारे

-  असमः कलियाबोर से कांग्रेस के तरुण गोगोई के पुत्र गौरव गोगोई जीते

- असमः सिलचर लोकसभा सीट से कांग्रेस की सुष्मिता देब हारे

 


अरुणाचल पश्चिम लोकसभा सीट की बात की जाए तो यहां 2014 में किरण रिजिजू ने ही जीत दर्ज की थी। वहीं अन्य प्रत्याशियों में कांग्रेस से नाबाम टुकी, पीपुल्स पार्टी ऑफ अरुणाचल से सुबु केची, जनता दल सेक्युलर से जरजुम एटी, ऑल इंडिया फॉरवर्ड ब्लॉक से जोमिन न्योकिर कारा, नेशनल पीपुल्स पार्टी से ख्योडा एपिक का नाम शामिल है। वहीं, निर्दलीय उम्मीदवारों में रूमक जोमोह हैं। इस लोकसभा में विधानसभा की कुल 33 सीटें आती हैं। अरुणाचल वेस्ट में कुल पुरुष मतदाताओं की संख्या 219334 है। इनमें से 159978 मतदाताओं ने मतदान किया था। कुल 72.94 फीसदी मतदाताओं ने मताधिकार का इस्तेमाल किया था। महिला मतदाताओं की संख्या 227181 है, जिनमें से 175687 मतदाताओं (करीब 77.33 फीसदी) ने मतदान किया था। कुल मतदाताओं की संख्या 446515 है जिनमें 335665 (75.17 फीसदी) मतदाताओं ने मतदान किया था। इस सीट को कांग्रेस पार्टी का गढ़ माना जाता है। कांग्रेस यहां से सबसे ज्यादा बार यानी 6 बार चुनाव जीत चुकी है। भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस के अलावा यहां पर अरुणाचल कांग्रेस का भी प्रभाव है। साल 1998 के लोकसभा चुनाव में अरुणाचल कांग्रेस ने यहां से जीत दर्ज की थी।

 


 

अरुणाचल प्रदेश की कुल आबादी (2011 जनसंख्या के आधार पर) 1383727 है। पुरुषों की आबादी 713912 है और महिलाओं की संख्या 669815 है। 1000 लड़कों पर लड़कियों की संख्या 938 है, जबकि यहां साक्षरता का प्रतिशत 65.38 फीसदी है। अधिकतम अबादी ( करीब 11 लाख) शहरों में रहती है, जबकि ग्रामीण आबादी बेहद कम है। यहां जनसंख्या घनत्व देश का सबसे कम 17 है। धर्म की बात करें तो 30.26 फीसदी लोग क्रिश्चियन हैं। 29 फीसदी हिंदुत्व को 26 फीसदी डोनी-पोलो को मानते  हैं। बुद्धिज्म को मानने वाले भी 12 फीसदी है। मुस्लिमों की आबादी महज 2 फीसदी के आसपास है। 19 फीसदी लोग नायिशी और 17.57 फीसदी लोग अदि भाषा  बोलते हैं। 9 फीसदी बंगाली और उतने ही के करीब नेपाली बोलते हैं। 8 फीसदी लोग हिंदी का भी इस्तेमाल करते हैं।