कांग्रेस पर रिजिजू ने बोला हमला, कहा- खराब सरकार के कारण पिछड़ा पूर्वोत्तर

Daily news network Posted: 2018-04-08 12:35:43 IST Updated: 2018-04-09 09:54:14 IST
  • केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने कहा है कि अगला एक दशक पूर्वोत्तर के राज्यों का होगा और इस दौरान यहां चमत्कारिक रूप से बदलाव होंगे।

गुवाहाटी

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने कहा है कि अगला एक दशक पूर्वोत्तर के राज्यों का होगा और इस दौरान यहां चमत्कारिक रूप से बदलाव होंगे। प्रदेश भाजपा कार्यालय में सवांददाताओं को सम्बोधित करते हुए अरुणाचल से भाजपा के सांसद ने कहा कि, पहले यहां अच्छी सराकर नहीं थी, जिसके कारण पूर्वोत्तर का यह पूरा इलाका पिछड़ा रह गया था, लेकिन अब नरेंद्र मोदी के 'एक्ट ईस्ट पॉलिसी' के जरिए यहां विकास की रफ़्तार दोगुनी हो गई है। पूर्वोत्तर जल्द ही आर्थिक गतिविधियों का हब बनने जा रहा है। 





बीजेपी के स्थापना दिवस को देखते हुए यहां पहुंचे केंद्रीय गृह राज्या मंत्री ने कहा कि पहले  यहां लुक ईस्ट पॉलिसी थी और अब देखने का समय नहीं बल्कि करने का है और किया जा रहा है, पीएम ने साफ़ शब्दों में सभी मंत्रालयों को पूर्वोत्तर के विकास के लिए कह दिया है और चारों तरह से विकास हो रहे हैं. वहीं हर जगह शांति लौट रही है। 

 


 भाजपा नेता ने पार्टी के राष्ट्रिय अध्यक्ष अमित शाह और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रंजीत दास की तारीफ करते हुए कहा कि पार्टी और सरकार के बीच तालमेल गजब का है और यह भी एक बड़ा कारण है कि प्रदेश और देश का विकास बड़ी तेजी से हो रहा है,सीमाई इलाकों के लिए विशेष पैकेज दिया गया है, पडोसी देशों के साथ व्यवसायिक गतिविधियां बढ़ाने के लिए लगातार कदम उठाये जा रहे हैं।

 

 



उन्होंने कहा कि खासकर मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल की अगुवाई में असम देश में सबसे तेज रफ़्तार से आगे बढ़ रहा है,पूर्वोत्तर के राज्यों में भाजपा के विस्तार  के बारे में बताते हुए सांसद ने कहा कि यहां के राज्यों के पास सब कुछ है। प्राकृतिक सम्पदा, प्राचीन संस्कृति है और सक्रीय समाज है लेकिन 2014 के बाद लोगों को समझ में आ गया है और इसी का परिणाम है कि यहां के राज्यों में भाजपा की सरकार लगातार बनती गई है।

 

 



इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि यहां  पहले लोग कहते थे कि, पहाड़ों पर कमल नहीं खिलता है लेकिन अब तो पहाड़ों में भी कमल खिलने लगा है,  पहले अरुणाचल में खिला फिर असम और फिर अन्य राज्यों में भी कमल खिलने लगा है।  पहले अरुणाचल में खिला फिर असम में और फिर अन्य राज्यों में भी कमल खिला। रिजिजू ने कहा कि 90 क्र दशक में जब उन्होंने भाजपा से राजनीति की शुरुआत की तो तब लोग कहते थे कि पहाड़ों पर कमल नहीं खिलते आप अपनी लाइफ बर्बाद ना करें, लेकिन हमारी मेहनत रंग लाई है।