जस्टिस रंजन गोगोई बने देश के मुख्य न्यायाधीश, राष्ट्रपति ने लगाई मुहर

Daily news network Posted: 2018-09-13 20:10:48 IST Updated: 2018-09-14 01:56:10 IST
  • राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने असम में जन्मे जस्टिस रंजन गोगोई को देश का अगला मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया है।

गुवाहाटी/नई दिल्ली।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने असम में जन्मे जस्टिस रंजन गोगोई को देश का अगला मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया है। जस्टिस गोगोई तीन अक्टूबर से बतौर मुख्य न्यायाधीश कार्यभार संभालेंगे।

 


 जस्टिस रंजन गोगोई वर्तमान चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की जगह लेंगे। जस्टिस गोगोई अभी सुप्रीम कोर्ट में चीफ जस्टिस के बाद सबसे वरिष्ठ जज हैं। सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा 2 अक्टूबर को रिटायर हो रहे हैं।



कानून मंत्रालय ने सीजेआई दीपक मिश्रा से अगले चीफ जस्टिस के नाम की सिफारिश भेजने को कहा था। जस्टिस मिश्रा ने एक सितंबर को जस्टिस रंजन गोगोई का नाम सुप्रीम कोर्ट के अगले मुख्य न्यायाधीश के लिए कानून मंत्रालय को भेजा था।

 


 जिसके बाद उनका मुख्य न्यायाधीश बनना तय हो गया। सीजेआई के तौर पर जस्टिस गोगोई का कार्यकाल एक साल, एक महीने और 14 दिन का होगा। वे 17 नवंबर 2019 को रिटायर होंगे।



 जस्टिस रंजन गोगोई असम से आते हैं। 1954 में जन्में जस्टिस गोगोई ने 1978 में गुवाहाटी हाईकोर्ट में वकालत शुरू की। फरवरी 2001 को गुवाहाटी हाईकोर्ट के जज बनाए गए। 2011 में वो पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में चीफ जस्टिस बने। अप्रैल 2012 को वह सुप्रीम कोर्ट में आए। इस समय वो सीजेआई के बाद सबसे सीनियर जज हैं।