आतंकवाद और पाकिस्तान के खिलाफ जमीयत उलेमा की विशाल रैली

Daily news network Posted: 2019-02-19 12:31:50 IST Updated: 2019-02-19 12:31:50 IST
आतंकवाद और पाकिस्तान के खिलाफ जमीयत उलेमा की विशाल रैली
  • जामिया , जलालीया, होजाई मद्रासा से सैकड़ों की तादात में छात्र शिक्षक, मद्रासा संचालन समिति ने सदस्यों ने हाथों में आतंकवाद के खिलाफ लिखे प्लेकार्ड लेकर एक विरोध रैली निकाली

गुवाहाटी।

पुलवामा हमले में भारत के जवानों की हत्या करने वाले पाकिस्तान के खिलाफ भारतीय लोगों में जो गुस्सा है वो चरम सीमा पर है। भारतीय लोग पीएम मोदी से अनुमाती मांग रहे हैं कि एक बार मोदी जी की अनुमती मिल जाने पर जो हास्य पाकिस्तान किया जाएगा उसे दुनिया का इतिहास याद रखेगा।इसी कड़ी में पाकिस्तानी आतंकवादियों को जमियत ने ललकारा है।

 

 सुबह 11 बजे जामिया , जलालीया, होजाई मद्रासा से सैकड़ों की तादात में छात्र शिक्षक, मद्रासा संचालन समिति ने सदस्यों ने हाथों में आतंकवाद के खिलाफ लिखे प्लेकार्ड लेकर एक विरोध रैली निकाली, जो शहर के जेके केडिया पथ से होते हुए मुस्लिम पट्टी होते हुए ईदगाह मैदान में पहुंची। इस दौरान रैली में चल रहे विद्दार्थियों ने जमकर पाकिस्तान मुर्दाबाद, आतंकवादी मुर्दाबाद, आतंकवादी होशियार और भारतीय सेना जिंदाबाद के नारे लगाए।

 

 ईदगाह मैदान में आयोजित एक सभा में प्रदेश जमीयत-उलेमा के अध्यक्ष मुस्तफा अनफर, होजाई जिला-जमीयत के अध्यक्ष मौलाना अदिरूद्दीन सहित मद्रासा व जमीयत के नेतृत्व ने आतंकवाद के विरूद्ध हुंकार भरते हुए कहा कि आतंकवाद को खत्म करना ही होगा।देश का हर नागरिक भारतीय सेना के साथ हैं।

 

 इसी के साथ ही असम के कछार जिले के सोनाई विधानसभा क्षेत्र के शिलकुड़ी व बारिकनगरवासियों के संयुक्त तत्वाधान में पुलवामा हमले के विरोध में मोमबत्ती रैली निकाली। रैली  में लोगों ने पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए।यह रैली बारिकनगर प्वाइंट से शुरू होकर शिलकुड़ी बरमबाबा मंदिर से होते हुए वापसे से बारिनकनगर प्वाइंट पहुंची।

 

 रैली में लोगों ने वही मांग की कि पाकिस्तान को अब दुनिया से उखाड़ फेंकने का समय आ गया है।इतने दिन से भाई-भाई करते-करते भाईचारा बढ़ाने की कोशिश कर रहे थे लेकिन ये उसके लायक नहीं है। इसे दुनिया के नक्शे ही हटाना होगा। जिस तरह से इसने भारतीय जवानों के चिथड़े उड़ाए हैं उसी तरह से पूरे पाकिस्तान के चिथड़े उड़ाने हैं।