इंडिगो और गो एयर की 65 फ्लाइट्स रद्द, गुवाहाटी से आने-जाने वालों को होगी परेशानी

Daily news network Posted: 2018-03-14 11:54:40 IST Updated: 2018-03-14 11:54:40 IST
इंडिगो और गो एयर की 65 फ्लाइट्स रद्द, गुवाहाटी से आने-जाने वालों को होगी परेशानी
  • प्रैट एंड व्हिट्नी इंजन वाले विमानों के संचालन में गड़बड़ी आने के बाद डीजीसीए के 11 विमानों को ऑपरेशंस से हटाने के आदेश के बाद देश की दो बजट एयरलाइंस इंडिगो और गो एयर ने कुल 65 उड़ानों को रद्द कर दिया है

नई दिल्ली

प्रैट एंड व्हिट्नी इंजन वाले विमानों के संचालन में गड़बड़ी आने के बाद डीजीसीए के 11 विमानों को ऑपरेशंस से हटाने के आदेश के बाद देश की दो बजट एयरलाइंस इंडिगो और गो एयर ने कुल 65 उड़ानों को रद्द कर दिया है। बड़ी संख्या में फ्लाइट्स को रद्द किए जाने की वजह से यात्रियों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। गुरुग्राम की कंपनी इंडिगो ने जहां 47 विमानों को रद्द किया है, वहीं वाडिया ग्रुप की कंपनी गो एयर ने अभी तक कुल 18 फ्लाइट्स को रद्द किया है। गो एयर ने 18 शहरों को जाने वाली 18 फ्लाइट्स को रद्द किया। कंपनी रोजाना 230 फ्लाइट्स ऑपरेट करती है।

 


 यहां की उड़ानेें

 दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, कोलकाता, हैदराबाद, बेंगलूरु, पटना, श्रीनगर, भुवनेश्वर, अमृतसर, गुवाहाटी से आने और जाने वाले विमानों की सेवा रद्द की गई है। मीडिया को जारी बयान में इंडिगो ने कहा कि प्रभावित यात्रियों को अन्य फ्लाइट्स से यात्रा करने का विकल्प दिया गया है और उनसे किसी तरह का अतिरिक्त शुल्क नहीं लिया जा रहा है और नहीं उन्हें अपनी यात्रा रद्द करने को कहा गया है।

 

 


 ऐसे लगा प्रतिबंध-

 सोमवार को अहमदाबाद से कोलकाता वाया लखनऊ जाने वाली इंडिगो विमान संख्या 6ई-244 के इंजन संख्या-2 का इंजन हवा में फेल हो गया था। जिसके बाद विमान की अहमदाबाद एयरपोर्ट पर आपात लैंडिंग करवानी पड़ी थी। इस मामले के बाद विमानन नियामक डीजीसीए ने एक खास सीरीज के 'प्रैट एण्ड व्हिटनीÓ इंजन वाले 11 ए320 नियो विमानों की उड़ानों पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी गई है।

 

 


 सुरक्षा प्राथमिकता है। 43 ऐसे इंजन (पीडल्ब्यू1100) वाले विमान दुनिया भर में हैं, जिसमें 19 भारत में हैं, जिसका इस्तेमाल इंडियो और गो एयर कर रही हैं। हमें इन्हें सुरक्षित नहीं मान रहे और तकनीकी एनालिसिस जारी है। जब हमें लगेगा कि यह इंजन सुरक्षित है, तभी हम इसके इस्तेमाल की इजाजत देंगे।