धारा 370 हटने का असर, धारा 371 पर पूर्वोत्तर राज्यों के स्थानीय संगठन करेंगे बैठक

Daily news network Posted: 2019-08-12 22:04:27 IST Updated: 2019-08-12 22:04:27 IST
धारा 370 हटने का असर, धारा 371 पर पूर्वोत्तर राज्यों के स्थानीय संगठन करेंगे बैठक
  • जम्मू—कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने का असर पूर्वोत्तर राज्यों में देखने को मिल सकता है।

इटानगर

जम्मू—कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने का असर पूर्वोत्तर राज्यों में देखने को मिल सकता है। यह धारा हटने के बाद कई लोगों ने पूर्वोत्तर राज्यों को मिले विशेष को हटाने को लेकर बातें की थी। खबर है कि पूर्वोत्तर राज्यों के स्थानीय संगठन वहां पर धारा 371 के तहत मिले हुए विशेष दर्जे को लेकर बैठक करेंगे। हालांकि गृहमंत्री अमित शाह संसद में पहले ही कह चुके हैं कि पूर्वोत्तर राज्यों को मिले विशेष दर्जे के साथ किसी भी तरह की छेड़छाड़ नहीं की जाएगी।

 

बताया जा रहा है कि पूर्वोत्तर राज्यों के स्थानीय संगठनों की यह बैठक 7 सितंबर को अरूणाचल प्रदेश के ईटानगर में आयोजित की जाएगी। इसका आयोजन Arunachal Pradesh chapter of the North East Indigenous People’s Forum (NEIPF) तथा NEFA Indigenous Human Rights Organisation मिलकर करेंगे।

 

आपको बता दें कि पूर्वोत्तर राज्यों को भारतीय संविधान में आर्टिकल 371 के तहत कुछ विशेष अधिका​र दिए हुए हैं। इनमें 371ए में नागालैंड, 371बी में असम, 371सी में मणिपुर, 371जी में मिजोरम, 371एच में अरूणाचल प्रदेश तथा 371एफ में सिक्किम को विशेष राज्यों का दर्जा दिया हुआ है।