सेना के लिए चीन सीमा पर बनेंगी सुरंगे, मजबूत होगी सैन्य क्षमता

Daily news network Posted: 2019-04-26 10:40:49 IST Updated: 2019-04-26 10:40:49 IST
सेना के लिए चीन सीमा पर बनेंगी सुरंगे, मजबूत होगी सैन्य क्षमता

नई दिल्ली।

भारतीय सेना ने चीन की सीमा पर गोला बारूद व अन्य हथियार रखने के लिए तीन सुरंगे बनाने का फैसला लिया है। सेना ने गुरुवार को नेशनल हाइड्रोइलेक्ट्रिक पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड (एनएचपीसी) के साथ करार किया है। इसे बनाने में करीब दो साल का वक्त लगेगा। इसमें 15 करोड़ रुपए का खर्च आएगा।

 

 


 अनुमान के मुताबिक इनमें करीब 800 मीट्रिक टन गोला-बारूद रखा जा सकेगा। सेना के सूत्र ने बताया कि पायलट प्रोजेक्ट के तहत भारत-चीन सीमा पर तीन सुरंगे बनाई जाएगी। एक सुरंग भारत-पाक सीमा पर बनेगी। इस योजना का मकसद भारत-चीन सीमा पर भारतीय सेना की क्षमताओं को बढ़ाना है। ऊंचाई पर स्थित होने की वजह से इस सीमा तक हथियारों को ले जाने में समस्या आती है। इस सुरंग के बनने के बाद इसमें सेना गोला-बारूद के साथ अन्य हथियार भी रख सकेगी।

 

 


 एक सुरंग में करीब 200 मीट्रिक टन गोला-बारूद रखा जा सकेगा। सूत्र ने बताया कि भारत लंबे समय से चीन और पाक की सीमाओं पर सुरंग बनाना चाहता था। यह सुरंगे उत्तरी और पूर्वी सीमा पर ऊंचाई वाले

 इलाके में बनाई जाएगी। इससे सैन्य क्षमता मजबूत होगी। साथ ही दुश्मन के हमले से गोला-बारूद और अन्य रक्षा उपकरणों को नुकसान से बचाया जा सकेगा।