भ्रष्टाचार के एक मामले में फंसती नजर आ रही है भाजपा सरकार!

Daily news network Posted: 2019-02-12 12:37:15 IST Updated: 2019-02-12 13:52:58 IST
 भ्रष्टाचार के एक मामले में फंसती नजर आ रही है भाजपा सरकार!
  • एक तरफ जहां असम की भाजपा नीत सरकार भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टाॅलरेंस की बात कह रही है, वहीं राज्य लोक निर्माण विभाग (सड़क) अंतर्गत लोक निर्माण विभाग...

गुवाहाटी

एक तरफ जहां असम की भाजपा नीत सरकार भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टाॅलरेंस की बात कह रही है, वहीं राज्य लोक निर्माण विभाग (सड़क) अंतर्गत लोक निर्माण विभाग (ग्रामीण सड़क) के कार्यकारी अभियंता कार्यालय फिर से विवादों का कारण बन गया है। वर्ष 2018-19 में सड़क निर्माण योजना के तहत सड़क निर्माण के लिए जारी टेंडर प्रक्रिया में व्यापक धांधली का अारोप लगाया जा रहा है।



विभाग द्वारा कुछ सड़कों की टेंडर प्रक्रिया आॅनलाइन किया और कुछ सड़कों की टेंडर आॅफलाइन प्रक्रिया के तहत किया गया। मामले से जुड़े सभी पक्षों को मैनेज कर इसे सुलझाया गया। इसके बाद सड़क निर्माण को लेकर विवाद शुरू हो गया। इस संबंध  में स्थानीय अावाज फाउंडेशन के संयोजक मजीबुर रहमान ने आरोप लगाया कि क्षेत्र में निर्माणधीन अधिकांश सड़को में नकली पेवल ब्लाॅक का व्यवहार हो रहा है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में जिस पेवल ब्लाॅक का व्यवहार हो रहा है वह घर-घर में अवैध रूप से बन रहा है और इन पेवल ब्लाॅक की भार क्षमता भी अत्यंत कम है।


 जिससे सहज ही इन ब्लाॅक की जांच में संबंधित अधिकारियों की कमजोरी उजागर हो रही है। इसके बाद भी लोक निर्माण विभाग के कुछेक भ्रष्ट अधिकारियों के मिलीभगत से नकली ब्लाॅक लगाने का काम जोरों से चल रहा है। अंत में उन्होंने नव नियुक्त जिला उपायुक्त घनश्याम दास से इस संबंध में उचित जांच कर ठोस कदम उठाने की मांग की है।