मौसम विभाग की चेतावनी से उड़े सभी के होश, अगले 24 घंटे होंगे बेहद खतरनाक

Daily news network Posted: 2019-08-26 09:32:55 IST Updated: 2019-08-26 10:33:08 IST
मौसम विभाग की चेतावनी से उड़े सभी के होश, अगले 24 घंटे होंगे बेहद खतरनाक
  • दक्षिण पूर्व, दक्षिण पश्चिम और उत्तर पश्चिम अरब सागर और दक्षिण पश्चिम बंगाल की खाड़ी एवं उत्तर अंडमान सागर में अगले 24 घंटों के दौरान 45 से 55 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने का अनुमान है। ओडिशा के तट में भी इसी तरह का मौसम रहने का अनुमान जताया गया है। मछुआरों को इन इलाकों में समुद्र

दक्षिण पूर्व, दक्षिण पश्चिम और उत्तर पश्चिम अरब सागर और दक्षिण पश्चिम बंगाल की खाड़ी एवं उत्तर अंडमान सागर में अगले 24 घंटों के दौरान 45 से 55 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने का अनुमान है। ओडिशा के तट में भी इसी तरह का मौसम रहने का अनुमान जताया गया है। मछुआरों को इन इलाकों में समुद्र में नहीं उतरने की सलाह दी गयी है।

 


 मौसम विभाग के अनुसार इसके अलावा पूर्वी राजस्थान, पूर्वी और पश्चिम मध्य प्रदेश, विदर्भ, ओडिशा, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, चंडीगढ, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ, झारखंड, पश्चिम बंगाल में गंगा के तटों, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, गुजरात, मध्य महाराष्ट्र, तटीय आंध्र प्रदेश ओर कर्नाटक, तमिलनाडु और पुड्डुचेरी के अलग-अलग हिस्सों में भारी से अत्यधिक भारी बारिश हो सकती है।

 


 दक्षिण पश्चिम मानसून ओडिशा, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ, तटीय आंध्र प्रदेश और कर्नाटक में सक्रिय है। अरुणाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर, पश्चिम राजस्थान, गुजरात राज्य और मराठवाडा में मानसून कमजोर पड़ गया है। बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल, सिक्किम और ओडिशा के छिटपुट स्थानों में अगले 24 घंटों में गरज के साथ बारिश हो सकती है।

 

 


 मध्य प्रदेश, पश्चिम बंगाल में गंगा के तटों, पंजाब, हरियाणा, जम्मू कश्मीर, पूर्व उत्तर प्रदेश, बिहार, असम, मेघालय, ओडिशा, झारखंड, पूर्व राजस्थान, छत्तीसगढ, तमिलनाडु, पुड्डुचेरी, कराईकल और तटीय आंध्र प्रदेश में शनिवार सुबह साढ़े आठ बजे से रविवार सुबह साढ़े आठ बजे तक अलग-अलग स्थानों पर गरज के साथ छींटे पड़े हैं नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, उपहिमालयी और पश्चिम बंगाल में गंगा के तटों, सिक्किम, बिहार, पूर्व मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ, कोंकण, गोवा, तटीय कर्नाटक, केरल, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, लक्षद्वीप, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, ओडिशा, झारखंड, पूर्व उत्तर प्रदेश, विदर्भ और कर्नाटक के आंतरिक हिस्सों के कई स्थानों पर बारिश या गरज के साथ बौछारें पड़ी। इसके अलावा पश्चिम मध्य प्रदेश, मध्य महाराष्ट्र, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, तमिलनाडु और पश्चिम उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश और जम्मू कश्मीर में छिटपुट स्थानों में बारिश या गरज के साथ छींटे पड़े।