Ganesh Chaturthi 2018: 85 साल से यहां बैठते हैं गणपति बप्पा, हर किसी का झुकता है सिर

Daily news network Posted: 2018-09-12 19:18:06 IST Updated: 2018-09-12 19:45:37 IST
  • गणेशोत्सव हर साल धूम-धाम से मनाया जाता है। पूरे देश में घरों के अलावा कई स्थानों पर गणेशजी की बड़ी-बड़ी प्रतिमाएं स्थापित की जाती हैं।

गणेशोत्सव हर साल धूम-धाम से मनाया जाता है। पूरे देश में घरों के अलावा कई स्थानों पर गणेशजी की बड़ी-बड़ी प्रतिमाएं स्थापित की जाती हैं। लेकिन सबसे ज्यादा चर्चा होती है लाल बाग के राजा (Lalbaugcha Raja-लालबागच्या राजाचा) की। इस बार गणेश चतुर्थी 13 सितंबर को मनाई जाएगी।

 


 मुंबई में 1934 से लाल बाग के राजा की विशाल प्रतिमा स्थापित की जाती है। लाल बाग इलाके में इसकी स्थापना होती है। इस बार भी बड़े ही धूम-धाम से लाल बाग के राजा की स्थापना की गई। इस बार भी लाल बाग के राजा को बड़े ही खूबसूरत तरह से सजाया गया है। सोने के मुकुट के साथ वो शान से बैठे नजर आ रहे हैं।

 


 लाल बाग के दर्शन के लिए बड़े-बड़े उद्योगपति, कई बड़े नेता के अलावा कई फिल्मी सितारे भी सर झुकाए नजर आते हैं। लाल बाग के राजा को बड़े ही धूमधाम से स्वागत किया जाता है। हर साल अलग-अलग तरह से उनको सजाया जाता है।


 बता दें, बाल गंगाधर तिलक ने गणेश उत्सव की शुरुआत की थी। जब भारत अंग्रेजों की गुलामी से आजाद होने के लिए संघर्ष कर रहा था। उस दौर में सभी भारतीयों को एक साथ इकट्ठा करने के लिए गणेश उत्सव शुरू किया गया था। उस समय पूरे देश में बड़े-बड़े पंडाल बनाए जाते थे और स्वतंत्रता संग्राम के लिए चर्चा किया करते थे।

 


 कैसे जाएं-

 लाल बाग के राजा गणपति के दर्शन के लिए आपको मुंबई जाना होगा। मुंबई जाने के लिए दिल्ली सहित देश के विभिन्न शहरों से सीधी ट्रेनें हैं। इसके अलावा आप हवाई जहाज से भी आसानी से मुंबई पहुंच सकते हैं।

 


 कहां ठहरें-

 मुंबई में ठहरने के लिए एक से बढ़कर एक होटल हैं। जहां आप गणपति के दर्शन के बाद आराम कर सकते हैं। ये होटल लाल बाग इलाके से पास है। जिनमें नरीमन प्वाइंट, होटल अरोमा, आईटीसी ग्रैंड सेंट्रल, होटल पार्क लेन, राजदूत होटल, पल्स होटल इत्यादि। इनका किराया 2500 से 11000 हजार के बीच है।