52 लाख LED बल्बों का होगा निशुल्क वितरण, हटाए जाएंगे बांसवाले खंभें

Daily news network Posted: 2018-07-12 12:36:34 IST Updated: 2018-07-12 12:36:34 IST
52 लाख LED बल्बों का होगा निशुल्क वितरण, हटाए जाएंगे बांसवाले खंभें
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक उज्जवल भारत का सपना देख रहे हैं। इसे सच में तब्दील करने हेतु असम पावर डिस्ट्रिब्यूशन कंपनी लि. (एपीडीसीएल) ने राज्य में कुछ खास योजनाओं की व्यवस्था की है।

गुवाहाटी ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक उज्जवल भारत का सपना देख रहे हैं। इसे सच में तब्दील करने हेतु असम पावर डिस्ट्रिब्यूशन कंपनी  लि. (एपीडीसीएल) ने राज्य में कुछ खास योजनाओं की व्यवस्था की  है। इससे राज्य के कोने-कोने में चालू वर्ष के 31 दिसंबर तक बिजली प्रदान कर सकते है । 



पिछले कई दिनों से राज्यवासी बांस और लकड़ी के बिजली खंभों की  शिकायत कर रहे थे । इसी को ध्यान में रखते हुए राज्य के सभी बांस के खंभो को हराकर आधुनिक तरीके से बिजली के खंभे स्थापित किए जाएंगे । इस योजना के लिए 25 करोड़ रुपए की लागत निर्धारित की  गई है, जिसमें से 12.5 करोड़ हमने रिलीज कर दिए है । 



इस आशय की बातें आज  नगर के खानापाड़ा  स्थित असम प्रशासनिक स्टॉफ कॉलेज में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में राज्य के ऊर्जा मंत्री तपन कुमार गोगोई ने कही । उन्होंने बताया कि गुवाहाटी की तरह अब राज्य के अन्य शहरों में भी ऑटो में प्रीपेड मीटर लगवाने की व्यवस्था की जाएगी । इसके पहले चरण के रूप में राज्य के चार शहरों का चयन किया गया है । 



दूसरी ओर सभी बिजली के तारों को आधुनिकीकरण करने के मकसद  से 60,000 किमी तक केबल के तारों का उपयोग किया जाएगा । इसके लिए 3284.04 करोड़ रुपए निर्धारित किए गए हैं । बिजली के करंट से हाथियों की मौत को देखते हुए काजीरंगा पशु उद्यान के हाथीखुली और टूरिस्ट फिगर में कबर कंडक्टर के माध्यम से बिजली के तार स्थापित की  जाएगी जो करीब 11 किमी तक होगी । राष्ट्र के 52 लाख घरों में नि:शुल्क  एलईडी बल्ब मुहैया करवाई जाएगी तथा प्रत्येक घर में 4 एलईडी बल्ब प्रदान किए जाएंगे ।