अवैध रुप से घुस आए थे पांच रोहिंग्या,वापस म्यांमार भेजा

Daily news network Posted: 2019-01-03 12:16:41 IST Updated: 2019-01-03 12:19:41 IST
अवैध रुप से घुस आए थे पांच रोहिंग्या,वापस म्यांमार भेजा
  • पांच और रोहिंग्या प्रवासियों को वापस उनके देश (म्यांमार) भेजा जा रहा है। सभी को मणिपुर के मोरेह में भारत-म्यांमार सीमा के जरिए म्यांमार भेजा जाएगा।

गुवाहाटी।

पांच और रोहिंग्या प्रवासियों को वापस उनके देश (म्यांमार) भेजा जा रहा है। सभी को मणिपुर के मोरेह में भारत-म्यांमार सीमा के जरिए म्यांमार भेजा जाएगा। फिलहाल ये पांचों रोहिंग्या शरणार्थी तेजपुर के हिरासत केन्द्र में बंद हैं।

 

 


आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि सभी पांचों रोहिंग्या प्रवासी मणिपुर पहुंच चुके हैं। उन्हें गुरुवार दोपहर तक म्यांमार अथॉरिटीज को सौंप दिया जाएगा। दोनों देश (भारत और म्यांमार) रोहिंग्याओं को वापस उनके देश भेजने को आसान बनाने को लेकर लगातार संपर्क में थे। सभी बाधाएं दूर हो गई है। पूरी संभावना है कि गुरुवार तक यह काम पूरा हो जाएगा। जिन रोहिंग्याओं को वापस उनके देश भेजा जाना है उनमें मोहम्मद अयाश, मोहम्मद रियाश, अहमद हुसैन, तोयाबा खातून और आजिदा बेगम शामिल है।

 


 इससे पहले अक्टूबर 2018 में सात रोहिंग्याओं को राज्य से वापस उनके देश भेजा गया था। इसको लेकर नागरिक अधिकार समूहों ने कड़ी प्रतिक्रिया दी थी। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि म्यांमार सरकार ने जब उनकी पहचान की पुष्टि कर दी तब हमने पांचों रोहिंग्याओं को वापस उनके भेजने का फैसला किया। हम उन्हें गुरुवार दोपहर तक उन्हें वापस उनके देश भेज देंगे। हमने म्यांमार सरकार को सभी दस्तावेज सौंप दिए थे। म्यांमार की सरकार सभी औपचारिकताओं के साथ तैयार है।

 


 सूत्रों का कहना है कि रोहिंग्या प्रवासी खुद अपने देश लौटने के लिए तैयार हैं। इस तरह के मामले में हम उनके डिपोर्टेशन को होल्ड नहीं कर सकते। यही नहीं म्यांमार की सरकार भी उन्हें वापस लेने के लिए सहमत है। साथ ही सिद्धांतत: सहमत है कि उनकी सुरक्षा सुनिश्चित होगी। आपको बता दें कि अभी भी करीब 15 रोहिंग्या राज्य के विभिन्न हिरासत केन्द्रों में बंद हैं। उनको भी जल्द ही वापस उनके देश भेजा जाएगा।