तस्करों के चंगुल से मुक्त कराए गए पांच बच्चे

Daily news network Posted: 2018-05-17 17:48:38 IST Updated: 2018-05-17 17:48:38 IST
तस्करों के चंगुल से मुक्त कराए गए पांच बच्चे
  • रेलवे सुरक्षा बल(आरपीएफ) ने तुरंत जानकारी पर कार्रवाई करते हुए 14 मई को रंगिया स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर 1 से तस्करों के चंगुल से पांच लड़कों को छुड़ाया और दो तस्करों को गिरफ्तार किया।

गुवाहाटी।

रेलवे सुरक्षा बल(आरपीएफ) ने तुरंत जानकारी पर कार्रवाई करते हुए 14 मई को रंगिया स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर 1 से तस्करों के चंगुल से पांच लड़कों को छुड़ाया और दो तस्करों को गिरफ्तार किया।

 


 आरपीएफ के इंस्पेक्टर अशोक दास ने तस्करों के बारे में खुफिया जानकारी के आधार पर सादे कपड़े में कॉन्स्टेबल तैनात किए थे, जिन्होंने संदिग्धों से संपर्क किया तथा उसके साथ बातचीत की। तब पाया कि नाबालिग सवालों के संतोषजनक ढ़ंग से जवाब नहीं दे रहे तो सेना ने कार्रवाई की और तस्करी करने वालों को गिरफ्तार कर लिया।


 रंगिया पोस्टो पोक्टो के कांस्टेबल, रूबल महानता, कांस्टेबल भास्कर मालाकार तथा आरपीएफ रंगिया के सीपीडीएस(अपराध संरक्षण एवं जांच दल) के कांस्टेबल, दिलीप चक्रवर्ती तथा मनाज अली कार्रवाई में शामिल थे। बाद में बचाए गए नाबालिगों के साथ तस्करों को आगे की कार्रवाई के लिए जीआरपी(सरकारी रेलवे पुलिस) को सौंप दिया गया।

 


 पूर्वोत्र तस्करी करने वालों के लिए एक सुरक्षित स्थल है जहां से नेपाल और भारत के अन्य हिस्सों में बाल मजदूरी में उपयोग के लिए गरीब नाबालिगों को ले जाया जाता है। पूसी रेलवे के आरपीएफ ने तस्करों के हाथों से नाबालिगो को बचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।