सावधानः पुलवामा अटैक के बाद भारतीय सेना के नाम से वायरल हो रहा है ये झूठा वीडियो

Daily news network Posted: 2019-02-19 17:18:56 IST Updated: 2019-02-19 17:18:56 IST

पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले के बाद सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि पुलवामा हमले के बाद जम्मू कश्मीर की सेना ने एक संदिग्ध को हिरासत में लिया और उसे पीट-पीटकर उसके साथ पूछताछ कर रही है। वायरल वीडियो में कुछ जवान एक आदमी को चारो तरफ से घेरे हुए हैं। उसे लगातार बड़े बैल्ट से पीटा जा रहा है और बीच-बीच में पूछताछ की जा रही है। इस वीडियो के कैप्शन में लिखा है कि जम्मू के हमले के संदिग्धों को पकड़ा जा रहा है, पहले प्यार से पूछताछ चल रही है पकड़े गए गद्दारों से। हालांकि पड़ताल में ये वायरल वीडियो फर्जी निकला है। वायरल वीडियो का भारतीय सेना द्वारा किसी संदिग्ध को हिरासत में लेने से कोई लेना देना नहीं है।




 ये वीडियो पिछले साल सितंबर से सोशल मीडिया पर है और युवक को जो लोग पीट रहे हैं वो भारतीय नहीं बल्कि पाकिस्तानी सेना के जवान हैं। बता दें पाकिस्तान के जाने माने पत्रकार हामिद मीर ने 21 सितंबर को एक वीडियो ट्वीट किया था। इस वीडियो में कुछ लोग एक युवक को पीट रहे थे। मीर ने कश्मीर में भारतीय सेना के अत्याचार के सबूत के रूप में इस वीडियो को पोस्ट किया था। जबकि हकीकत कुछ और ही है। दरअसल ये वीडियो भारतीय नहीं पाकिस्तानी सेना का है, जिसमें वे एक पश्तून युवक को बुरी तरह पीट रहे थे। दरअसल पश्तून लोग पाकिस्तान का विरोध करते हैं और उससे अलग होने की मांग करते हैं। अगर वीडियो को गौर से देखा जाए तो आपको पता चलेगा कि जो जवान युवक को पीट रहे हैं उनकी वर्दी पर पाकिस्तानी झंडा लगा हुआ है। 





वहीं दूसरी तरफ इन लोगों के जूते पर भी आप गौर करेंगे तो पता चलेगा कि भारतीय सेना ऐसे जूते नहीं पहनती है। बता दें कि पश्तून और ब्लूची लोगों के साथ पाकिस्तान हमेशा से ही ऐसा बर्ताव करता है। ये उन्हीं में से एक मामले का वीडियो है। पड़ताल में सामने आया कि ये वीडियो 5 जुलाई 2018 को बलूच रिपब्लिक पार्टी के प्रवक्ता शेर मोहम्मद के वेरिफाइड ट्वीटर अकाउंट से पोस्ट किया गया था। ट्वीट में उन्होंने लिखा था कि लूटपाट की सेना किस तरह से लोगों पर अत्याचार कर रही है। ऐसे में इस वीडियो में भारतीय सेना के जवानों के होने का दावा पूरी तरह से झूठा निकला है।