रोहिंग्या के खिलाफ अभियान जारी, मणिपुर में दो और संदिग्ध गिरफ्तार

Daily news network Posted: 2018-04-11 19:42:44 IST Updated: 2018-04-11 19:42:44 IST
रोहिंग्या के खिलाफ अभियान जारी, मणिपुर में दो और संदिग्ध गिरफ्तार
  • रोहिंग्या के खिलाफ जारी अभियान में मोरेह पुलिस ने दो और अवैध प्रवासियों को गिरफ्तार कर लिया है। जिनपर संदेह है कि वे रोहंग्या हैं।

इंफाल।

रोहिंग्या के खिलाफ जारी अभियान में मोरेह पुलिस ने दो और अवैध प्रवासियों को गिरफ्तार कर लिया है। जिनपर संदेह है कि वे रोहंग्या हैं।


 मंगलवार को संदीप गोपालदास मोहरले, एसडीपीओ मोरेह और थॉमस थोकचॉम, डीएसपी/सीडीओ मोरेह की अगुआई में मोरेह पुलिस और सीआईडी की संयुक्त टीम ने दो संदिग्ध अवैध प्रवासियों को गिरफ्तार कर लिया। उनके पास भारत की नागरिकता के उचित दस्तावेज नहीं थे।

 


 दोनों संदिग्धों की पहचान म्यांमार के रक्षिनी राज्य में बूथिदांग गांव के मोहम्मद फैसल हक के बेटे मोहम्मद शोबीक(26) के रूप में और म्यांमार के रख़ीन राज्य बूथिदांग गांव के मोहम्मद शोबीक हक की पत्नी अरोफा(24) के रूप में की गई है। पुलिस ने दोनों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।


 बता दें कि हाल ही में भारत-म्यांमार सीमा पर टेंगनोपाल जिले के मारे से 2 रोहिंग्या को गिरफ्तार किया गया था। इन सभी रोहिंग्याओं ने केक वार्ड नंबर पांच में शरण ले रखी थी। इनके साथ 20 साल की एक युवती को भी पुलिस ने पकड़ा था।

 


 छापेमारी में जिन दो लोगों को गिरफ्तार किया गया था उनके नाम मोहम्मद सैफुल्ला और मोहम्मद सलीम है। दो पुरुष पहले मानव तस्करी में लिप्त थे, ये लोग रोहिंग्या लड़कियों की तस्करी करते थे और उन्हें जिस्मफरोशी के धंधे में डालते थे। इसके लिए यह लोग इंफाल के स्थानीय लोगों की मदद लेते थे और बाद में लड़कियों को भारत के अलग-अलग हिस्सों में भेजते थे। मणिपुर पुलिस ने अभी तक कुल 8 रोहिंग्या को गिरफ्तार किया है।