उप-चुनाव हारने के बाद बौखलार्इ कांग्रेस, पहले पूर्व CM आैर अब इस नेता पर फोड़ा हार का ठिकरा

Daily news network Posted: 2018-05-14 17:03:20 IST Updated: 2018-05-14 17:35:53 IST
उप-चुनाव हारने के बाद बौखलार्इ कांग्रेस, पहले पूर्व CM आैर अब इस नेता पर फोड़ा हार का ठिकरा
  • विलियमनगर उप-चुनाव में हारने के बाद कांग्रेस ने अपने ही खेमें के लोगों को हार का जिम्मेदार ठहराना शुरू कर दिया है।

शिलांग।

विलियमनगर उप-चुनाव में हारने के बाद कांग्रेस ने अपने ही खेमे के लोगों को हार का जिम्मेदार ठहराना शुरू कर दिया है। पूर्व मुख्यमंत्री मुकुल संगमा को दोषी ठहराने के बाद अब कांग्रेस विलियमनगर उप-चुनाव हारने का दोष पूर्व गारो हिल्स जिला कांग्रेस कमेटी के विधायक डेबाेर मराक पर मढ़ रही है।

 

 


मेघालय प्रदेश कांग्रेस कमेटी को भेजे गए एक ज्ञापन में गारो हिल्स जिला इकार्इ ने कहा कि क्षेत्र के जमीनी स्तर पर पार्टी कार्यकर्ताआेंं में विरोध की भावना बढ़ रही है, जबकि मराक इसमें सुधार करने के लिए ब्लाॅक स्तर के नेताआें से सम्पर्क करने में नाकाम साबित हाे रहे हैं।

 


 रिपोर्ट में कहा गया है कि पार्टी कार्यकर्ताआें के प्रति विधायक की पूर्व उपेक्षा आैर असंवेदनशीलता के कारण विलियमनगर विधानसभा उप-चुनाव में हमें हार का सामना करना पड़ा है। जिला कांग्रेस ने मराक को इस हार का नैतिक दायित्व स्वीकार करने की मांग की है। जिला कांग्रेस ने कहा है कि असंतुष्ट सदस्यों ने इस मामले पर वरिष्ठ पार्टी के नेताआें से संपर्क करने का फैसला लिया है।

 

 


आपको बता दें कि इससे पहले कांग्रेस ने विलियमनगर उप-चुनाव में हार का ठीकरा पूर्व मुख्यमंत्री मुकुल संगमा पर फोड़ा था। मेघालय में कांग्रेस का एक बड़ा वर्ग इस हार के लिए मुकुल संगमा को जिम्मेदार ठहरा रहा है। उसका मानना है कि पार्टी के कुछ लोगों के द्वारा मिले विश्वासघात के कारण ही यह सीट हाथ से निकल गर्इ। अब कांग्रेस का यह वर्ग पार्टी के साथ दगाबाजी  करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवार्इ करने की मांग कर रहा है।



 कांग्रेस सदस्यों का आरोप था कि मुकुल संगमा ने अपनी बेटी व दामाद डेरिल विलियम समेत संगमा समर्थक, यहां निर्दलीय प्रत्याशी सेंगबाथ के लिए चुनाव प्रचार कर रहे थे।  देबाराह मराक ने खुलकर तो नहीं कहा, लेकिन इतना जरूर कहा कि वरिष्ठ कांग्रेसी नेताआें को चुनाव प्रचार में सहयोग नहीं मिला।