नागरिकता बिल पर भाजपा को मिला मंत्री गुर्जर का साथ, कहा- असम के हित में है बिल

Daily news network Posted: 2019-01-11 12:33:54 IST Updated: 2019-01-12 08:30:51 IST
नागरिकता बिल पर भाजपा को मिला मंत्री गुर्जर का साथ, कहा- असम के हित में है बिल
  • केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं आधिकारिता राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर ने कहा कि नागरिकता(संशोधन)विधेयक, 2016 असम के लोगों के हित में है और राज्य के लोगों को इसका विरोध नहीं करना चाहिए...

गुवाहाटी।

केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं आधिकारिता राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर ने कहा कि नागरिकता (संशोधन) विधेयक असम के लोगों के हित में है और राज्य के लोगों को इसका विरोध नहीं करना चाहिए। गुर्जर ने एक कार्यक्रम से इतर संवाददाताओं से कहा, यह विधेयक असम के लोगों के हित में है। इस विधेयक में असम के लोगों के खिलाफ कुछ भी नुकसानदायक नहीं है।

 


उन्होंने कहा कि यह विधेयक कुछ विशेष धार्मिक समुदायों के प्रवासियों को देश कि किसी भी हिस्से में बसने की अनुमति देता है। ये लोग अपने देश में जबरन धर्म परिवर्तन की समस्याओं  का सामना कर रहे हैं। अगर ये लोग भारत में बसकर अपना धर्म बचाना चाहते हैं तो इसमें कोई समस्या नहीं होनी चाहिए। गुर्जर ने कहा कि जिन लोगों को इस विधेयक से लाभ मिलेगा, वे एक समय में भारत के नागरिक रह चुके हैं, इसलिए अगर वे वापस आकर देश के किसी भी हिस्से में बसना चाहते हैं तो इसमें किसी को कोई समस्या नहीं होनी चाहिए।


 

केंद्रीय मंत्री का यह बयान इस समय आया है जब असम में नागरिकता (संशोधन) विधेयक 2016 का विरोध हो रहा है, जिसमें बांग्लादेश, पाकिस्तान और अफगानिस्तान के हिंदुओं, सिखों, पारसियों, इसाईयों, बौद्ध और जैन समुदाय को भारत में छह वर्ष निवास करने के बाद भारतीय नागरिकता प्रदान करने की अनुमति देने का प्रावधान है।विधेयक लोकसभा में ध्वनिमत से पारित हो चुका है लेकिन राज्यसभा में लंबित है।