सुनील देवधर ने कांग्रेस पर कसा तंज, कहा: भाजपा की नैतिक जीत

Daily news network Posted: 2018-04-21 12:47:47 IST Updated: 2018-04-21 16:02:13 IST
सुनील देवधर ने कांग्रेस पर कसा तंज, कहा: भाजपा की नैतिक जीत
  • भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य और त्रिपुरा के प्रभारी सुनील देवधर ने सोशल मीडिया साइट पर कांग्रेस पर तंज कसा

झारखंड में नगर निकायों के अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष के कुल 58 पदों के लिए पहली बार पार्टी आधार पर हुए चुनावों में भाजपा ने 26 पद जीत लिए। इन चुनावों में कांग्रेस का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा। दूसरी तरफ भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य और त्रिपुरा के प्रभारी सुनील देवधर ने सोशल मीडिया साइट पर कांग्रेस पर तंज कसा है। देवधर ने फेसबुक पर लिखा कि भारतीय जनता पार्टी की कांग्रेस पर एक और विजय। भाजपा ने झारखंड में कांग्रेस का सफाया कर दिया है। इस जीत के लिए उन्होंने रघुवर दास और उनके कार्यकर्ताओं को बधाई दी है। बता दें कि सुनील देवधर सोशल मीडिया पर काफी सक्रीय रहते हैं। 



 

बता दें कि झारखंड के पांच नगर निगमों के अलावा कुल 29 नगर परिषद एवं नगर पंचायतों के अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष पदों के लिए हुए चुनावों में भाजपा ने सर्वाधिक 15 पद अध्यक्ष के और दस पद उपाध्यक्ष के जीत लिए। इसके अलावा पार्टी ने झुमरी तिलैया जिला परिषद अध्यक्ष के लिए हुए उपचुनावों में भी जीत दर्ज की जिसे मिलाकर अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष पदों पर उसके कुल 26 उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की।



 

चुनाव परिणामों में कांग्रेस ने भी अध्यक्ष के कुल पांच पद एवं उपाध्यक्ष के चार पदों पर जीत दर्ज की। झारखंड मुक्ति मोर्चा ने अध्यक्ष के कुल तीन पद और उपाध्यक्ष के कुल चार पदों पर जीत दर्ज की। इन चुनावों में झारखंड विकास मोर्चा को एक अध्यक्ष एवं तीन उपाध्यक्ष पदों पर जीत हासिल हुई। इसी प्रकार आल झारखंड स्टूडेंट्स यूनियन को चुनावों में दो अध्यक्ष पद और दो ही उपाध्यक्ष पद हासिल हुए। राजद को नगर निगम की भांति नगर परिषदों में तो खाली हाथ संतोष करना पड़ा, लेकिन नगर पंचायतों में उसके उम्मीदवारों ने एक अध्यक्ष पद और दो उपाध्यक्ष पद जीतने में सफलता हासिल की। इन चुनावों में दो निर्दलीय भी अध्यक्ष पद और तीन निर्दलीय उपाध्यक्ष पद पर जीत दर्ज करने में सफल हुए। इन चुनावों में कपाली नगर परिषद के उपाध्यक्ष पद के चुनाव तकनीकी कारणों से स्थगित हो गये थे और उन पर बाद में चुनाव कराये जायेंगे।