भाजपा का बड़ा ऐलान, चुनाव तक दूसरी पार्टी के नेताओं की एंट्री पर लगाया बैन

Daily news network Posted: 2019-08-22 16:53:37 IST Updated: 2019-08-24 09:14:06 IST
भाजपा का बड़ा ऐलान, चुनाव तक दूसरी पार्टी के नेताओं की एंट्री पर लगाया बैन
  • 'सौ चुहे खा कर बिल्ली चली हज को' वाली कहावत असम प्रदेश भाजपा के साथ चरितार्थ हो रही है। बड़ी संख्या में दूसरी पार्टी के नेताओं को पार्टी में लेने के बाद अब दुसरे दलों के नेताओं के लिए अपना दरवाजा बंद कर लिया है।

गुवाहाटी

'सौ चुहे खा कर बिल्ली चली हज को' वाली कहावत असम प्रदेश भाजपा के साथ चरितार्थ हो रही है। बड़ी संख्या में दूसरी पार्टी के नेताओं को पार्टी में लेने के बाद अब दुसरे दलों के नेताओं के लिए अपना दरवाजा बंद कर लिया है। हालांकि राजनीति से अलग यानी शिक्षा, कला-संस्कृति और उद्योग जगत से जुड़े लोगों के साथ किसान और मजदूर वर्ग के लोगो भाजपा में शामिल हो सकते हैं।



 राजनीति दलों के नेताओं की इंट्री पर रोक की घोषणा करते हुए असम प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रंजीत कुमार दास ने इसका कारण चल रहे सांगठनिक चुनाव बताया है। हालांकि बीटीएडी के इलाके में कोई भी राजनीति दल के नेता भाजपा में शामिल हो सकते हैं, इसकी पूरी छूट दी गई है। क्योंकि आने वाले समय में वहां स्थानीय चुनाव होने हैं।

 



अगप सरकार में मंत्री रही रेखा रानी दास बोड़ो तथा गुवाहाटी विश्वविद्यालय में व्याख्याता रही नीलिमा भागवती के साथ बड़ी संख्या में महिलाएं आज भाजपा में शामिल हुईं। तृणमूल कांग्रेस सहित कई अन्य दलों के नेताओं ने भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह के सामने भाजपा की सदस्यता ली थी। पिछले दिनों प्रदेश कांग्रेस के दो बड़े नेता भुवनेश्वर कलिता और गौतम राय भाजपा में शामिल हो गए थे।

 



इन नेताओं की भाजपा में इंट्री उस समय हुई जब कुछ दिनों पहले प्रदेश भाजपा अध्यक्ष रंजित कुमार दास ने एेलान कर दिया था कि उन्हें दूसरे दलों के नेता नहीं कार्यकर्ता की जरूरत है। लेकिन अंततः पार्टी के भीतर टल रहे विरोध के कारण पार्टी ने दूसरे दलों के नेताओं की इंट्री पर सार्वजनिक रूप से रोक की घोषणा कर दी है।