विधेयक पास हुआ तो असम के इतिहास से भाजपा व आरएसएस की होगी विदाई: अखिल

Daily news network Posted: 2019-01-26 12:36:06 IST Updated: 2019-01-26 12:36:21 IST
विधेयक पास हुआ तो असम के इतिहास से भाजपा व आरएसएस की होगी विदाई: अखिल
  • राज्य में विधेयक विरोधी मुद्दा दिनों-दिन जोर पकड़ता जा रहा है।

गुवाहाटी

राज्य में विधेयक विरोधी मुद्दा दिनों-दिन जोर पकड़ता जा रहा है। कृषक मुक्ति संग्राम समिति के सलाहकार अखिल गोगोई ने भाजपा, आरएसएस के साथ ही कांग्रेस पर भी तिखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि अगर किसी भी हालत में असमिया जाति द्रोही विधेयक पास हुआ तो असम के इतिहास से भाजपा तथा आरएसएस को हमेशा के लिए विदाई कर देंगे। वहीं कांग्रेस भी विधेयक पर अपनी स्थिति को स्पष्ट करते हुए पूरजोर विरोध नहीं करती है तो इसे भी कचड़े के डब्बे में डाल देंगे। उनका कहना है कि इस विषय पर जदयू केसी त्यागी ने भी इस विधेयक का विरोध किया है। आगामी 28 व 29 जनवरी को दिसपुर में बजट सत्र के दौरान आयोजित प्रदर्शन में अपना समर्थन देने के लिए उनकी टीम आएगी।

 

 


इस आशय की बातें नगर के गांधी बस्ती स्थित कृषक मुक्ति संग्राम समिति के मुख्यालय में विधेयक विरोधी 70 संगठनों का प्रतिनिधित्व करते हुए कृषक नेता अखिल गोगोई ने कही। उन्होंने कहा कि इस विधेयक का राजद नेता मनोज कुमार झा ने भी विरोध जताया है। वहीं आम आदमी पार्टी, असम गण परिषद, सीपीआई के साथ अन्य सहयोगी संगठनों का भी समर्थन है। इसके साथ ही कांग्रेसी नेता जयराम रमेश से बात हुई है तथा जल्द ही कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से भी मुलाकात करेंगे।