Birthday Special: वुमन आइकन इरोम शर्मिला के नाम दर्ज है अनोखा रिकॉर्ड

Daily news network Posted: 2018-03-14 18:35:12 IST Updated: 2018-03-14 19:18:32 IST
  • अपना 46वां जन्म दिन मना रही इरोम शर्मिला एक एेसा नाम जिसने एक मिसाल कायम की।

इंफाल।

अपना 46वां जन्म दिन मना रही इरोम शर्मिला एक एेसा नाम जिसने एक मिसाल कायम की। आर्म्ड फोर्स स्पेशल पॉवर एक्ट (आफ्सपा) को हटाने के लिए सरकार से खिलाफत की। पूर्वोत्तर में लोग इन्हें आयरन लेडी के नाम से जानते हैं। बता दें कि  इरोम शर्मिला का जन्म 14 मार्च 1972 को इंफाल में हुआ था।

 

 



इरोम के नाम अनोखा रिकार्ड

 आयरन लेडी इराेम के नाम अनोखा रिकार्ड दर्ज है। पहला सबसे लंबी भूख हड़ताल करने और दूसरा सबसे ज्यादा बार जेल से रिहा होने का रिकॉर्ड दर्ज है। बता दें कि इरोम ने आफ्सपा के खिलाफ  खुली जंग छेड़ते हुए भूख हड़ताल शुरू की थी आैर ये भूख हड़ताल पूरे 16 सालों तक चली। 4 नवम्बर 2000 से लेकर 9 अगस्त 2016 तक भूख हड़ताल पर रहीं। बीते 16 वर्षों में उनकी हालत कई बार नाज़ुक हुई और उनके जीवन में भी कई उतार-चढ़ाव आए।

 



हड़ताल के चलते किया गया था गिरफ्तार

 भूख हड़ताल के चलते सरकार ने शर्मिला को आत्महत्या के प्रयास में गिरफ्तार कर लिया था। क्योंकि यह गिरफ्तारी एक साल से अधिक नहीं हो सकती, इसलिए हर साल उन्हें रिहा करते ही दोबारा गिरफ्तार कर लिया जाता था। इरोम की नाक में नली लगाई गई, जिसके जरिए उन्हें खाना दिया जाता था और इसके लिए पोरोपट के सरकारी अस्पताल के एक कमरे को अस्थायी जेल बना दिया गया था। उनके नाम पर अबतक दो रिकॉर्ड दर्ज हो चुके हैं।



वूमन आइकन ऑफ इंडिया का खिताब


अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर उन्हें एमएसएन ने वूमन आइकन ऑफ इंडिया का खिताब दिया था।  इरोम शर्मिला ने 1000 शब्दों में एक लंबी बर्थ शीर्षक से एक कविता लिखी थी। यह कविता आइरन इरोम टू जर्नी- व्हेयर द एबनार्मल इज नार्मल नामक एक किताब में छपी थी। इस कविता में उन्होंने अपने लंबे संघर्ष के बारे में बताया है।