PM मोदी की राह पर चले बिप्लब देव, कहा- न खाऊंगा न खाने दूंगा

Daily news network Posted: 2018-03-10 16:07:21 IST Updated: 2018-03-10 16:10:05 IST
PM मोदी की राह पर चले बिप्लब देव, कहा- न खाऊंगा न खाने दूंगा
  • त्रिपुरा में नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री बिप्लब देव ने शुक्रवार को अगरतला के असम रायफल्स के ग्राउंड में शपथ ग्रहण की। शपथ ग्रहण के बाद भाजपा सरकार का नेतृत्व कर रहे सीएम विप्लव देव ने देश के पीएम की राह अपनार्इ है।

अगरतला।

त्रिपुरा में नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री बिप्लब देव ने शुक्रवार को अगरतला के असम रायफल्स के ग्राउंड में शपथ ग्रहण की। शपथ ग्रहण के बाद भाजपा सरकार का नेतृत्व कर रहे सीएम बिप्लब देव ने देश के पीएम की राह अपनार्इ है। उन्होंने कहा कि पीएम की तरह ही मेरी सरकार में भी शपथ लेने से ही यह लागू हो गया है कि 'न खाऊंगा न खाने दूंगा।'


 बता दें कि शुक्रवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री बिप्लब देव ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि जिसने भी करप्शन किया है उन्हें बक्शा नहीं जाएगा। पीएम की तरह ही मेरी सरकार में भी शपथ लेने से ही यह लागू हो गया है कि न खाऊंगा न खाने दूंगा।


 उन्होंने आगे कहा,'उम्मीद है कि मेरे कैबिनेट के साथी भी वैसा ही शासन चलाएंगे, जैसा पीएम चाहते हैं। यह मंत्र सबको याद होना चाहिए नीचे से ऊपर तक। नहीं तो इंटेलिजेंस और विजलेंस है। अब मैं हर दिन इंटेलिजेंस से रिपोर्ट लूंगा। पहले ऐसा पूछा नहीं जाता था पार्टी की रिपोर्ट के ऊपर ही सरकार चलती थी। लेकिन अब ऐसा नहीं चलेगा।'

 

 


 इसके अलावा उन्हाेंने कहा कि त्रिपुरा में अब लाेगाें को बहुत उम्मीदें है आैर यह स्वाभाविक है। उन्होंने कहा पहले मैंने राज्य में प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर काम किया है आैर अब सीएम के तौर पर करूंगा। गौरतलब है कि बिप्लब देव के मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण करने के बाद असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने भी कहा नर्इ सरकार राज्य में लोगों  की आकांक्षाआें आैर उम्मीदों काे पूरा करने की पूरी कोशिश  करेंगे। इसके साथ ही उन्होंने बिप्लब देव की कामयाबी की कामना की आैर त्रिपुरा सरकार को समर्थन देने का वादा किया है। 



बता दें कि अगरतला के असम राइफल्स मैदान में बिप्लब देब ने त्रिपुरा के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली।  इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष समेत दर्जनों मुख्यमंत्री मौजूद थे।