बिप्लब सरकार ने की मंत्रियों के विभागों की घोषणा, 7 विभाग CM के पास

Daily news network Posted: 2018-03-10 17:59:05 IST Updated: 2018-03-10 21:54:02 IST
बिप्लब सरकार ने की मंत्रियों के विभागों की घोषणा, 7 विभाग CM के पास
  • शुक्रवार को प्रधानमंत्री मोदी के सामने त्रिपुरा के बिप्लब सरकार के शपथ ग्रहण के बाद शनिवार को 12 मंत्रियों की कैबिनेट में से 9 के लिए पोर्टफोलियो की घोषणा कर दी गई है।

अगरतला।

शुक्रवार को प्रधानमंत्री मोदी के सामने त्रिपुरा के बिप्लब सरकार के शपथ ग्रहण के बाद शनिवार को 12 मंत्रियों की कैबिनेट में से 9 के लिए पोर्टफोलियो की घोषणा कर दी गई है।

 


 मुख्य सचिव संजीव रंजन ने कहा, 'मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब अपने पास 7 विभाग रखेंगे। ये विभाग किसी मंत्री को नहीं दिए जाएंगे। मुख्यमंत्री के पास गृह, पीडब्ल्यूडी, उद्योग और वाणिज्य, शहरी विकास, सामान्य प्रशासन, श्रम, सूचना और सांस्कृतिक मामलों के विभाग रहेंगे। हालांकि, वे उद्योग और वाणिज्य विभाग के सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) क्षेत्र की देखरेख नहीं करेंगे।

 वहीं उपमुख्यमंत्री जिष्णु देव वर्मा को बिजली, ग्रामीण विकास, वित्त, योजना और समन्वय विभाग दिए गए हैं। अभी जिष्णु विधानसभा सीट नहीं जीत पाए हैं। बता दें कि चारिलाम विधानसभा सीट के सीपीएम उम्मीदवार रामेंद्र नरायण देबबर्मा के निधन की वजह से इस सीट पर चुनाव नहीं हो पाए थे। इसी सीट से जिष्णु भी उम्मीदवार थे। इस सीट पर 12 मार्च चुनाव होने हैं।


 बता दें कि पिछले साल तृणमूल कांग्रेस से भाजपा में आए रतन लाल नाथ को स्कूल शिक्षा, उच्च शिक्षा, संसदीय कानूनी मामले, ओबीसी कल्याण और अल्पसंख्यक मामले का प्रभार दिया गया।

 तृणमूल कांग्रेस से रतन लाल नाथ के साथ भाजपा में आए सुदीप रॉय बर्मन को स्वास्थ्य और परिवार कल्याण, विज्ञान, प्रौद्योगिकी और पर्यावरण, उद्योग और वाणिज्य और पीडब्ल्यूडी के विभागों के लिए राज्यमंत्री बनाया गया है। रॉय पहले कांग्रेस छोड़कर 2016 में तृणमूल में शामिल हुए थे।


 पूर्व कांग्रेस विधायक प्राणजीत सिंह रॉय को कृषि, परिवहन और पर्यटन विभाग, मनोज कांति देब को युवा मामलों, भोजन, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता मामलों के अलावा  और खेलों के विभागों का प्रभार दिया गया है।

 वहीं आईपीएफटी के अध्यक्ष और अनुभवी विचारक एन.सी. देबबर्मा को राजस्व और मत्स्यपालन विभागों का प्रभार दिया गया है। आईपीएफटी नेता मेवर कुमार जमैतिया को आदिवासी कल्याण और वन विभाग का प्रभार दिया गया है।


 नई सरकार की सबसे युवा मंत्री शांतना चकमा को सामाजिक कल्याण और सामाजिक शिक्षा का विभाग दिया गया है। उन्हें इसके अलावा पशु संसाधन विकास विभाग का प्रभार भी दिया गया है।

 बता दें कि 12 मंत्रियों की कैबिनेट में अभी तीन विभाग का प्रभार किसी को नहीं दिया गया है। तीन और विधायक भाग्यशाली होंगे जिन्हें विभाग दिए जाएंगे।