इस महिला के साथ हुई सबसे बड़ी ज्यादती, 15 दस्तावेजों के बावजूद भी नहीं मिली नागरिकता

इस महिला के साथ हुई सबसे बड़ी ज्यादती, 15 दस्तावेजों के बावजूद भी नहीं मिली नागरिकता
News

असम जाबेदा नाम की एक महिला के साथ सबसे बड़ी ज्यादती होने की घटना सामने आई है।

गुवाहाटी

असम में जाबेदा नाम की एक महिला के साथ सबसे बड़ी ज्यादती होने की घटना सामने आई है। बताया गया है कि जाबेदा द्वारा अपनी भारतीय नागरिकता साबित करने के लिए 15 दस्तावेज पेश किए गए जा चुके हैं। इसके बावजूद उसें भारत की नागरिक नहीं माना गया। अपनी नागरिकता साबित करने के चक्कर में वो अपनी सारी कमाई भी खर्च कर चुकी है, लेकिन अभी तक राहत नहीं मिली।

इस समय पूरे देश में एनआरसी लागू किए जाने की चर्चा हो रही है, अभी तक असम एनआरसी का मामला सुलझने का नाम नहीं ले रहा। इसम में एनआरसी को फेल बताकर नजीर बताकर लोग एनआरसी का पूरे देश भर में जोरदार विरोध कर रहे हैं। असम में एक ऐसा मामला सामने आया जिसके बारे में सुनकर हर कोई दंग है। महिला ने अपनी और अपने पति की नागरिकता साबित करने लिए 15 तरह के दस्तावेज पेश किए, लेकिन वो फॉरेनर्स ट्रिब्यूनल में हार गईं और नागरिकता साबित नहीं कर पाई।

महिला ने जब इस मामले को हाइ कोर्ट में चुनौती दी तो वहां भी हार गई। महिला का कहना है कि उसका सारा पैसा केस लड़ने में खर्च हो चुका है। महिला ने बताया कि उसका पति बीमार हैं, बेटी पांचवीं क्लास में पढ़ती है।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज : https://twitter.com/dailynews360

Top News

Tending Now