भूपेन हजारिका को भारत रत्न पर जानिए क्या कहा राज्य के मुख्यमंत्री ने

Daily news network Posted: 2019-08-09 12:59:52 IST Updated: 2019-08-09 17:45:38 IST
  • मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने असम तथा पूरे देश के अति लोकप्रिय कलाकार सुधाकंठ डा. भूपेन हजारिका को मरणोपरांत देश का सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न से नवाजे जाने को असम तथा देशवासियों के लिए अत्यंत ही सुखद समाचार कहा है।

गुवाहाटी

मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने असम तथा पूरे देश के अति लोकप्रिय कलाकार सुधाकंठ डा. भूपेन हजारिका को मरणोपरांत देश का सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न से नवाजे जाने को असम तथा देशवासियों के लिए अत्यंत ही सुखद समाचार कहा है। उन्होंने कहा कि सिर्फ असम और भारत ही नहीं बल्कि विश्व के जिन-जिन जगहों में असमिया तथा भारतीय समाज बसे है, उन्हें भी इस समाचार से हर्ष की प्राप्ति होगी।

 

 

 

 


 यहां जारी एक बयान में मुख्यमंत्री सोनोवाल ने कहा कि इस महान कलाकार के आदर्श से युगों-युगों तक लोगों को प्रेरणा मिलती रहेगी। उन्होंने डा. भूपेन हजारिका को मरणोपरांत यह सम्मान देने के लिए राज्यवासियों की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आंतरिक धन्यवाद और आभार प्रकट किया है। उन्होंने अपने बयान में कहा कि इस महान कलाकार को भारत रत्न से सम्मानित करना राज्यवासियों का लंबे समय का सपना था और सभी तहे दिल से चाहते थे।

 

 

 

 मुख्यमंत्री ने उम्मीद जताई कि इस महान कलाकार के आदर्श पर सभी अपनी राह तलाशेंगे। भूपेन दा के गीतों में सार्वजनिकता एवं मानवीय अपील रहने का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने सभी जाति-जनगोष्ठी, भाषा-भाषियों के बीच शांति-संप्रीति अधिक मजबूत करने की जरूरत पर बल दिया।

 

 


 मालूम हो कि गुरूवार शाम को नई दिल्ली के राष्ट्रपति भवन में आयोजित सुधाकंठ भूपेन हजारिका और नानाजी देशमुख को मरणोपरांत तथा देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को रामनाथ कोविंद ने देश का सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न प्रदान किया। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने भूपेन दा के पुत्र तेज हजारिका और परिवार के अन्य सदस्यों का अभिनंदन जताया है।

 

असम के राज्यपाल ने भी ट्वीट करके खुशी जाहिर की।