पंचायत के एक फैसले ने ली 16 साल के युवक की जान, ट्रेन के आगे कूदकर दी जान

Daily news network Posted: 2019-08-19 09:01:12 IST Updated: 2019-08-19 09:01:39 IST
पंचायत के एक फैसले ने ली 16 साल के युवक की जान, ट्रेन के आगे कूदकर दी जान
  • असम के बोंगाईगांव से एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है।

नई दिल्ली

असम के बोंगाईगांव से एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। असम के एक 16 साल के लड़के ने ट्रेन के आगे कूदकर सिर्फ इसलिए आत्महत्या कर ली क्योंकि गांव की पंचायत ने उसके ऊपर 42 हजार रुपये का जुर्माना लगा दिया था। घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर उसे पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।

 


रेप का लगा था आरोप

मिली जानकारी के अनुसार यह पूरा मामला असम के बोंगाईगांव जिले का है। बताया जा रहा है कि पीड़ित परिवार आर्थिक रूप से काफी कमजोर है। स्थानीय सूत्रों के अनुसार लड़के को पीलिया था जिसके चलते वह पास के गांव के एक नीम हकीम के पास जा रहा था। इसी दौरान उसकी साइकिल दो महिलाओं पर गिर गई, जिसके बाद महिलाओं ने उसपर रेप का आरोप लगा दिया। इसके तुरंत बाद गांव वालों ने उसे पकड़ लिया और उसकी पिटाई शुरू कर दी। हालांकि वह बार-बार कहता रहा है कि उसने ऐसा नहीं किया लेकिन इसके बावजूद भी किसी ने उसकी बात नहीं सुनी।

 

 


अपमानित महसूस कर उठाया कदम

इसके बाद उसके परिवार को पंचायत में बुलाया गया। जहां पंचायत ने उसपर जुर्माना लगाने का फैसला किया। इतना ही नहीं सूत्रों की मानें तो पंचायत ने लड़के को अपना पक्ष रखने तक का मौका नहीं दिया। मामले की जांच के बाद पुलिस ने बताया कि युवक ने खुदको बहुत अपमानित सा महसूस किया और इसी वजह से उसने खुदकुशी कर ली। हालांकि पुलिस इस पूरे मामले की गंभीरता से जांच करने में जुटी है।