महाभारत में इंटरनेट-सैटेलाइट की मौजूदगी की बात कह कर फंसे त्रिपुरा CM, समर्थन में आए BJP नेता

Daily news network Posted: 2018-04-19 09:37:56 IST Updated: 2018-04-19 11:32:22 IST
महाभारत में इंटरनेट-सैटेलाइट की मौजूदगी की बात कह कर फंसे त्रिपुरा CM, समर्थन में आए BJP नेता
  • त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब के महाभारत काल में इण्टरनेट और सैटेलाइट होने के बयान को लेकर एक तरफ विपक्ष उन पर जमकर हमले बोल रहा है

गुवाहाटी

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब के महाभारत काल में इंटरनेट और सैटेलाइट होने के बयान को लेकर विपक्ष उन पर तीखे हमले कर रहा है। वहीं मुख्यमंत्री के बचाव में भाजपा के कई बड़े नेता सामने आए। असम के बीजेपी सांसद राम प्रसाद शर्मा ने बिप्लब देब इस बयान के लिए का धन्यवाद दिया है।




उन्होंने कहा कि 'सच पर रोशनी डालने के लिए मैं बिप्लब देब जी को धन्यवाद देता हूं। उनका नाम बिप्लब है, इसीलिए उन्होंने इस प्रकार कि क्रान्तिकारी बातें की। महाभारत के समय संजय ने एक टीवी का किरदार निभाया था, क्योंकि धृतराष्ट्र अंधे थे और वह देख नहीं पा रहे थे कि रणभूमि में क्या हो रहा है।  संजय ने उसे देखकर धृतराष्ट्र को बताया था।  यह केवल महाभारत और रामायण की नहीं बल्कि वेदों में दर्ज विज्ञान है जो अब इस दुनिया में नहीं है। इसके साथ ही शर्मा ने कहा कि नासा ने वेदों से ही विज्ञान की जानकारियां प्राप्त की हैं।

 


 बता दें कि त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने दावा किया था कि महाभारत के दिनों में इंटरनेट और अत्याधुनिक उपग्रह संचार प्रणाली मौजूद थी। उन्होंने मंगलवार को सार्वजनिक वितरण प्रणाली ( पीडीएस ) कंप्यूटरीकरण एवं सुधार से जुड़ी एक क्षेत्रीय कार्यशाला में कहा कि महाभारत में इस बात का उल्लेख है कि संजय ने नेत्रहीन राजा धृतराष्ट्र को पांडवों और कौरवों के बीच जारी युद्ध का आंखों देखा हाल बयां किया था।

 

 


 मुख्यमंत्री ने कहा था, 'संचार संभव था क्योंकि उस समय हमारी तकनीक अत्याधुनिक और विकसित थी। हमारे पास इंटरनेट एवं उपग्रह संचार प्रणाली थी। ऐसा नहीं है कि महाभारत काल में इंटरनेट या मीडिया मौजूद नहीं था। मुझे नहीं पता कि मध्य युग , महाभारत काल एवं वर्तमान के बीच क्या हुआ।'