अरुणाचल में सबसे ज्यादा रहता हैं नौकरी जाने का खतरा, ये राज्य हैं सबसे बेहतर

Daily news network Posted: 2018-04-07 19:00:40 IST Updated: 2018-04-07 19:27:18 IST
अरुणाचल में सबसे ज्यादा रहता हैं नौकरी जाने का खतरा, ये राज्य हैं सबसे बेहतर
  • भारत में पूर्वात्तर राज्य अरुणाचल प्रदेश नौकरी को सेक्याेर करने के मामले में सबसे खराब राज्यों में नंबर एक पर है।

नर्इ दिल्ली।

भारत में पूर्वात्तर राज्य अरुणाचल प्रदेश नौकरी को सेक्याेर करने के मामले में सबसे खराब राज्यों में नंबर एक पर है। Adzuna.in के द्वारा पेश की गर्इ रिपार्ट के मुताबिक अरुणाचल प्रदेश भारत में उन राज्यों में सबसे ऊपर है जहां लोग नौकरी को बचाकर नहीं रख पाते हैं।  रिपोर्ट में सामने आया है कि अरुणाचल प्रदेश आैर पूर्वाेत्तर के दूसरे राज्य में लोगों को काॅरपोरेट में करियर उपलब्ध नहीं करवा पाते है। पूर्वोत्तर के राज्यों के अलावा जम्मू कश्मीर भी इस श्रेणी में आगे है।

 

 


नौकरी के मामले में सबसे खराब राज्य

 बता दें कि Adzuna.in एक एडवारटाइजिंग कंपनी है जो नौकरी के लिए विज्ञापन देती हैं। Adzuna.in ने नौकरी दिलाने में भारत के सबसे अच्छे आैर सबसे खराब राज्यों की लिस्ट तैयार की है। जिसके मुताबिक अरुणाचल प्रदेश काॅपोरेट में महज 0.01 फीसदी नाैकरी उपलब्ध करवा पाता हैं।

 

 


इसके बाद पूर्वोत्तर के अन्य राज्य सिर्फ 0.02 फीसदी नाैकरी मुहैया करा पाता हैं। पूर्वोत्तर के बाद जम्मू आैर कश्मीर 0.04 फीसदी नाैकरी मुहैया करा पाता है। हिमालय प्रदेश 0.12 फीसदी, गोवा 0.13 फीसदी, झारखंड 0.14 फीसदी, उत्तराखंड 0.17 फीसदी, असम 0.23 फीसदी, तो वहीं छत्तीसगढ़ 0.23 फीसदी और ओडिशा महज 0.28 फीसदी नौकरी देने में सक्षम है। 

 


 ये 10 राज्य एक फीसदी ज्यादा नौकरी खाते हैं

एडजुना का कहना है कि ये दस राज्य एेसे हे जो एक फीसदी नौकरी ज्यादा खाते है। तो अगर आप अपना काॅरपोरेट में अच्छा करियर बनाना चाहते हैं तो एेसे क्षेत्रों में जाए जो फलेक्सबिल हाे।

 

 


नौकरी देने के मामले में सबसे अच्छे राज्य

 

 एडजुना के मुताबिक महाराष्ट्र अौर कर्नाटक में इस साल करीब 38 फीसदी नौकरी के लिए विज्ञापन है। इन क्षेत्रों में दो लाख से ज्यादा नैकरी है। देश में ये दो एेसे क्षेत्र है जो नौकरी के मामले में सबसे अच्छे हैं। दोनों क्षेत्रों में हर साल टाॅप पांच सेक्टर में 18 फीसदी जाॅब निकलती हैं आैर तकरीबन 38 फीसदी लोगों को नौकरी मिलती है। तो करियर के लिहाज से सबसे अच्छे ये दोनों क्षेत्र ही है।